आईबीपीएस पीओ स्टडी प्लान 2016 | ऐसे करें पीओ परीक्षा तैयारी

कैसे करें आईबीपीएस पीओ की तैयारी, क्या है आईबीपीएस, आईबीपीएस स्टडी प्लान आईबीपीएस पीओ 2016 परीक्षा की तैयारी कैसे करें –  भारत में सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में पीओ (प्रोबेशनरी ऑफिसर) की भर्ती के लिए सबसे अच्छा माध्यम आईबीपीएस पीओ परीक्षा है। इसके लिए आपको आईबीपीएस पीओ परीक्षा पैटर्न और परीक्षा की तैयारी शुरू करने के बारे में पूरी जानकारी होनी चाहिए। नीचे इस संबंध में पूरी गाइड और स्टडी प्लान मौजूद है।

बैंक की नौकरियों के लिए प्रतिस्पर्धा में वृद्धि के साथ, परीक्षा में कठिनाई भी बढ़ गई है। हम परीक्षा की तैयारी शुरू करने के लिए सरल टिप्स के साथ विस्तार से आईबीपीएस पीओ 2016 परीक्षा पैटर्न समझा रहे हैं।

(Click here for read in English)

आईबीपीएस पीओ परीक्षा क्या है?

बैंकिंग कार्मिक चयन संस्थान (Institute of Banking Personnel Selection) जिसे हम शोर्ट फॉर्म में “IBPS” के नाम से जानते है। बैंकिंग के कर्मियों के चयन के लिए इंस्टीट्यूट ऑफ बैंकिंग पर्सनल सेलेक्शन आईबीपीएस पीओ परीक्षा आयोजित करवाता है। यह संस्थान तीन चरण में परीक्षा करवाता है।

  • पहला चरण – प्रारंभिक
  • द्वितीय चरण – साधन
  • तीसरे चरण – साक्षात्कार

आईबीपीएस प्रारंभिक परीक्षा पैटर्न:

आईबीपीएस परीक्षा पैटर्न, आईबीपीएस परीक्षा सिलेबस, आईबीपीएस पीओ 2016 स्टडी मैटेरियल, आईबीपीएस पीओ तैयारी

आईबीपीएस मुख्य परीक्षा पैटर्न:

आईबीपीएस पीओ तैयाारी, आइबीपीएस पीओ 2016 तैयारी, आईबीपीएस पीओ स्टडी मैटेरियल, आइबीपीएस पीओ मेंस पैटर्न

आईबीपीएस पीओ तैयारी टिप्स – स्टडी प्लान

“आईबीपीएस पीओ टिप्स और ट्रिक्स” से आप आईबीपीएस पीओ परीक्षा में आसानी से सफलता प्राप्त करने में मदद मिलेगी।

आईबीपीएस परीक्षा के लिए क्या – क्या तैयार करे?
चाहे आप पहली बारी ही इस परीक्षा की तैयारी कर रहे हों या फिर आप पहले भी परीक्षा दे चुके हों, दोनों ही बातों में यह बहुत जरूरी है कि आपको पाठयक्रम की पूरी समझ हो। IBPS Clerical का पाठयक्रम पांच विषयों से बनता है। बैंक परीक्षा की तैयारी के लिए सबसे पहले तो आपको आईबीपीएस परीक्षा सिलेबस जानना जरूरी है।

मुख्य विषय –

  • रीजनिंग (Reasoning)
  • अंग्रेजी भाषा (English Language)
  • समान्य ज्ञान (General Knowledge)
  • मात्रात्मक योग्यता (Quantitative Aptitude)
  • Computer (कंप्यूटर)

आईबीपीएस के लिए रीजनिंग की तैयारी ऐसे करे?

रीजनिंग (तर्क) = Reasoning. लगभग सभी प्रतियोगिता परीक्षाओ में रीजनिंग विषय सामान्य है। रीजनिंग एक स्कोरिंग पेपर भी है। यदि आपकी इस विषय पर अच्छी कमान है तो आप आसानी से अपने स्कोर को बढ़ा सकते है। अधिकांश प्रश्न तार्किक (Logical) और मौखिक (Verbal) में से आते है।

मुख्य रीजनिंग टॉपिक्स –

  • श्रृंखला बनाना (Making series),
  • संख्या श्रृंखला, कोडिंग, और डिकोडिंग,
  • समझ तर्क (Comprehension Reasoning),
  • लॉजिकल रीजनिंग समस्या, पैसेज और निष्कर्ष,
  • सादृश्य (Analogy)

आईबीपीएस परीक्षा के लिए सामान्य ज्ञान की तैयारी ऐसे करे?

सभी बैंकिंग परीक्षायो के लिये सामान्य ज्ञान (General Knowledge) महत्वपूर्ण पेपर हैं। आपको देश की दैनिक घटनाओं और गतिविधियों के बारे में रू-ब-रू रहना होगा। सामान्य ज्ञान की तैयारी के लिये आपको नियमित रूप से समाचार पत्र और पत्रिका (Magazine) पढ़नी चाहिए। तब आप इस टेस्ट में अच्छे अंक प्राप्त कर सकते हो। जैसे-

  • राजनीतिक, सामाजिक, भारतीय अर्थव्यवस्था (Indian Economy Notes for IBPS),
  • व्यापार, बाजार, कृषि, वित्त, पुरस्कार,
  • भारतीय संविधान, मीडिया, खेल,
  • भारतीय रिजर्व बैंक और बैंकिंग से जुड़े अपडेट (RBI Related Notes for IBPS) आदि

आईबीपीएस परीक्षा के लिए अंग्रेजी की तैयारी ऐसे करे?

सभी बैंकिंग परीक्षायो के लिए अंग्रेजी सामान्य पेपर है। यदि आपके अंग्रेजी के बेसिक्स की जानकारी है तो इस विषय में अंक लाना बहुत ही आसान है। यह आपके सम्पूर्ण स्कोर को भी मदद करता है। अंग्रेजी का अधूरा ज्ञान होने की वजह से ज्यादातर उम्मीदवार इस भाषा के पेपर में कम अंक ला पाते हैं।

  • परीक्षा के दौरान अंग्रेजी भाषा के बुनियादी ज्ञान (Basic Knowledge of English) के सवाल होंगे।
  • इनमें व्याकरण और शब्दावली (Grammar and Vocabulary) भी शामिल होगा।
  • अंग्रेजी के टॉपिक्स पर विशेष ध्यान दे जैसे की खाली स्थान भरना, वाक्यांश और मुहावरे,
  • प्रत्यक्ष – अप्रत्यक्ष काल, एक शब्द प्रतिस्थापन,
  • वाक्य पूर्णव्यवस्थित करना (Sentence Rearrangement), त्रुटि सही करना इतियादी।

आईबीपीएस के लिए मात्रात्मक योग्यता की तैयारी कैसे करे?

Quantitative Aptitude = मात्रात्मक योग्यता का पेपर एक कठिन माना जाता है। परीक्षा के दौरान सबसे ज्यादा टाइम इसी के सवालो को हल करने में लग जाता है। डेटा व्याख्या (Data interpretation) इस पेपर का मुख्य हिस्सा है।

  • इसमें सारणीकरण, पाई चार्ट, रेखा चार्ट, लाइन ग्राफ और बार चार्ट आदि के प्रश्न करने को मिलेंगे।
  • आपको शॉर्टकट फोर्मुले और ट्रिक्स पता होना आवश्यक है। वरना, इस पेपर में आपका बहुत सारा समय गणना करने में ही खराब हो जाएगा।

मुख्य टॉपिक्स –

  • डेटा इंटरप्रिटेशन, अनुक्रम और श्रृंखला,
  • अनुक्रम और सीरीज, अनुपात, द्विघात समीकरण,
  • संख्या प्रणाली (Number Series Tricks), अनुपात, प्रतिशत और औसत, सरलीकरण आदि।

आईबीपीएस परीक्षा के लिए कंप्यूटर की तैयारी कैसे करे?

बैंक परीक्षा में कंप्यूटर एक जरूरी विषय है। इस परीक्षा में आपके कंप्यूटर ज्ञान और कौशल की जांच होती है। थोड़ी सी मेहनत करके आप इस विषय में भी अच्छे अंक प्राप्त कर सकते हैं।

मुख्य कंप्यूटर टॉपिक्स –

  • कंप्यूटर बेसिक प्रश्न, ऑपरेटिंग सिस्टम कार्य,
  • बुनियादी इंटरनेट ज्ञान और प्रोटोकॉल, इनपुट और आउटपुट डिवाइस,
  • नेटवर्किंग ((LAN & WAN) शॉर्टकट एवं बेसिक ज्ञान,
  • एमएस वर्ड, एमएस एक्सेल, एमएस पावर प्वाइंट, कम्प्यूटर शॉर्टकट आदि।

आईबीपीएस परीक्षा अध्ययन की योजना + टिप्स

जो भी स्टूडेंट्स बैंकिंग फील्ड में अपना कैरियर बनाना चाहते है उन सबको पढने की आदत डाल लेनी चाहिए।

पढऩे की आदत को अपनाएं: अपने ठान लिया है की IBPS clerk की तैयारी करनी है तो आप बहुत सारी किताबे, खबरे और internet में ज्ञान पढऩा है, साथ ही आपको current affairs और सामान्य ज्ञान भी पढऩा होगाा। ये भी जरूरी है कि आप प्रतिदिन किसी English newspapper को पढ़ें।

कम्प्यूटर को बनाएं दोस्त: आईबीपीएस को उत्तीर्ण करने के लिए आपको कम्प्यूटर के प्रश्नों का उत्तर लिखना ही पड़ेगा। आपको कम्प्यूटर से जुड़े हर सामान्य ज्ञान को पाना है। इसकी मदद से आप internet में छुपे असीमित ज्ञान को भी पा सकते हैं। तो बहुत जरूरी है कि आप कम्प्यूटर को अपना दोस्त बनाएं।

टाइम मैनेजमेंट का रखें ख्याल: हर विषय को अलग अलग समय में तैयार करने के लिए विभाजित करे। इससे आप सभी टॉपिक्स को उचित समय दे पाएँगे। हर रोज़ तैयारी करने के लिए समय निर्धारित करे। आईबीपीएस में 200 प्रश्न हैं, जिन्हें 120 मिनटों में हल करना है। तो आप ये हिसाब लगा सकते हैं कि आपको हर प्रश्न में एक मिनट से भी कम का समय मिलता है। अभ्यास के लिए आप हर दिन दो घंटों का समय लेकर 200 अभ्यास प्रश्नों का उत्तर देने की कोशिश करें। इससे पता लगाया जा सकता है कि आपको प्रश्नों का उत्तर देने में कितना समय लगता है।

अपनी कमजोरियों का आकंलन करें: आप अपनी कमियों को अभ्यास के द्वारा खोज सकते हैं। आप उन विषयों को ठोस करने के लिए अपना अभ्यास तेज कर सकते हैं। उन विषयों को ज्यादा समय दे सकते हैं। साथ ही अपनी गति का भी आंकलन कर सकते हैं, जिस गति से आप अपने प्रश्नों का उत्तर कर रहे हैं।

अभ्यास परीक्षा एवं मॉक टेस्ट का सहारा लें: आपकी तैयारी के लिए सबसे उच्च तरीका ये है कि आप खुद ही अभ्यास प्रश्नों की परीक्षा करें और घड़ी में समय निर्धारित करें। ये आपको हौंसला देगा और निरंतर आगे बढऩे के लिए रास्ता भी।

ट्रिक्स का इस्तेमाल करें: हर प्रश्न का उत्तर देने के लिए एक मिनट से कम का समय है और हर गलत उत्तर पर negative marking है। इसलिए ये जरूरी है कि आप सूझबूझ कर प्रश्नों का उत्तर दें। सभी प्रश्नों का उत्तर करना ज्यादा जरूरी नहीं है। किंतु ये ज्यादा जरूरी है कि आप जितने भी प्रश्नों का उत्तर करें वे सही हो और कम से कम आप 120 प्रश्नों का सही उत्तर करें। हर गलत उत्तर आपको 0.25 negative अंक ले के आएगा। इसलिए यह जरूरी है कि आप उन्हीं प्रश्नों का उत्तर करें, जिनकी आपको पूर्णता जानकारी हो।

(Click here for read in English)

IBPS Official site – www.ibps.in आईबीपीएस परीक्षा से सम्बंधित अन्य पोस्ट चेक करे।

Updated: August 19, 2016 — 10:55 am

Leave a Reply

सरकारी जॉब न्यूज | Sarkari Job News Hindi © 2016 Frontier Theme