Daily Current Affairs, Current Affairs 4 January 2020, Current Affairs 4 January, Current Affair 4 January 2020 Question, 4 January 2020 Current Affairs, Current Affairs 4 January 2020,

यह 4 January 2020 का इंपॉर्टेंट करेंट अफेयर्स है, जो आपके कांपटीटिव एग्‍जाम्‍स में मदद करेगा। इसे दी हिन्‍दू, इंडियन एक्‍सप्रेस सहित अन्‍य न्‍यूजपेपर के अनैलिसिस से तैयार किया गया है। इसका PDF Download Link इस पेज के लास्‍ट में मौजूद है। 4 January 2020 Current Affairs PDF आप इस पेज के आखिरी हिस्‍से से Free में डाउनलोड करें।

1. अमेरिका ने ड्रोन हमले में 3 जनवरी 2020 को बगदाद में ईरान के किस सैन्य कमांडर को मार गिराया?

a. कासिम सुलेमानी
b. इस्माईल कानी
c. हसन रूहानी
d. इनमें से कोई नहीं

Answer: a. कासिम सुलेमानी

– ईरान के बेहद ताकतवर मेजर जनरल कासिम सुलेमानी को ड्रोन हमले में मारने को अमेरिका काफी बड़ी कामयाबी मान रहा है
– उसका मानना है कि खूंखार आतंकी ओसामा बिन लादेन को ढेर करने से भी यह बड़ी कामयाबी है

ईरान में कासिम सुलेमानी का कद?
– ईरान में सर्वोच्च धार्मिक नेता अयातुल्लाह खामेनेई के बाद कासिम को दूसरे नंबर का सबसे ताकतवर शख्स माना जाता था
– 1980 के ईरान-इराक युद्ध में सीमा की रक्षा को लेकर वह काफी चर्चित रहे। इस युद्ध में अमेरिका ने इराक का साथ दिया था
– 2019 में ही सुलेमानी को ईरान का सर्वोच्च सम्मान ‘ऑर्डर ऑफ जुल्फिकार’ दिया गया था।
– उन्‍होंने रेव्योलेश्‍नरी गार्ड्स का नेतृत्व किया था।
– जनरल सुलेमानी क़ुद्स फ़ोर्स नाम की एक सैन्य टुकड़ी के प्रमुख थे. ये टुकड़ी एक तरह से विदेश में ईरान की सेना के जैसी है जो अलग-अलग देशों में ईरानी हितों के हिसाब से किसी का साथ तो किसी का विरोध करती है.
– ऐसा समझा जाता है कि बीते वर्षों में जब सीरिया में राष्ट्रपति बशर अल-असद के ख़िलाफ़ विद्रोह का बिगुल बजा, तो उसे दबाने में सीरियाई राष्ट्रपति की असल मदद जनरल सुलेमानी ने ही की थी.

सुलेमानी की मौत का भारत पर असर
– अमेरिकी एयर स्ट्राइक के बाद कच्चे तेल का भाव लगातार बढ़ रहा है
– ईरान धमकी दे रहा है कि युद्ध होने की स्थिति में वह स्ट्रेट ऑफ होर्मुज के रास्ते को बंद कर देगा
– भारत जरूरत का 80 फीसदी तेल आयात करता है और दो तिहाई हिस्से का आयात स्ट्रेट ऑफ होर्मुज के रास्ते होता है
– तेल महंगा होने से भारत में खर्च में कटौती की समस्या बढ़ेगी जिससे सुस्ती को मजबूती मिलेगी
– भारत के शेयर बाजार में गिरावट आ गई।
– सोने के नाम में काफी ज्‍यादा ऊछाल आया। एक दिन में 752 रुपए प्रति ग्राम तक सोना का भाव बढ़ गया।

तेल संकट की आशंका
ओपेक देशों में सबसे ज्यादा तेल का उत्पादन इराक करता है और यह – रोजाना 4.7 मिलियन बैरल तेल निकालता है।
– सऊदी अरब, कुवैत और ईरान मिलकर रोजाना 15 मिलियन तेल का उत्पादन करता है।
– समस्या यह है कि पूरे विश्व में तेल की सप्लाई का मुख्य रास्ता स्ट्रेट ऑफ होर्मुज है और ईरान बार-बार धमकी देता है कि अगर युद्ध की स्थिति बनती है तो वह इस रास्ते से सप्लाई बंद कर देगा।

पश्चिम एशिया में तनाव चरम पर
– जनरल कासिम सुलेमानी के अमेरिकी ड्रोन हमले में मारे जाने के बाद पश्चिम एशिया में तनाव चरम पर।
– विश्‍व की 13वीं सबसे बड़ी सैन्‍य शक्ति ईरान और सुपर पावर अमेरिका के बीच जुबानी जंग तेज हुई।
– खाड़ी देशों में बढ़ते तनाव को देखते हुए अमेरिका ने 3 हजार अतिरिक्‍त सैनिक भेजने का फैसला किया है।
– उधर, अमेरिकी राष्‍ट्रपति डॉनल्‍ड ट्रंप ने कहा है कि उनका देश ईरान के साथ युद्ध शुरू नहीं करना चाहता।

अमेरिका ने क्‍यों की कार्रवाई?
– दरअसल, हाल ही में ईरान समर्थित शिया मिलिशिया ने इराक में अमेरिकी दूतावास पर हमला किया था।
– ट्रंप ने कहा कि सुलेमानी अमेरिकी राजनयिकों और सैन्‍यकर्मियों पर हमले की साजिश रच रहे थे और इसी वजह से उन्‍हें निशाना बनाया गया।
– उन्‍होंने कहा क‍ि ईरान अगर कोई जवाबी कार्रवाई करता है तो हमने उससे निपटने के लिए लक्ष्‍यों की पहचान कर ली है और मैं किसी भी जरूरी कदम को उठाने के लिए पूरी तरह से तैयार हूं।
– अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप के एक ट्वीट के जवाब में कासिम ने 2018 में लिखा था, ‘हम आपके पास हैं, इतना जितना आप सोच भी नहीं सकते। आओ, हम तैयार हैं। यदि आप जंग शुरू करेंगे तो हम खत्म करेंगे। आप जानते हैं कि यह जंग आपकी ताकत पूरी तरह खत्म कर देगी।’

बदला लेगा ईरान?
– दूसरी ओर ईरान राष्ट्रपति हसन रूहानी ने कहा है कि वह इस हत्‍याकांड का बदला लेगा।
– सुलेमानी की मौत के बाद ईरान में तीन दिन का राष्‍ट्रीय शोक घोषित किया गया है और उन्‍हें एक राष्‍ट्रीय हीरो का दर्जा दिया गया है।
– इस बीच ईरान के राष्‍ट्रीय सुरक्षा काउंसिल की राजधानी तेहरान में बैठक हुई है जिसकी अध्‍यक्षता ईरान के सर्वोच्‍च नेता अयातुल्‍ला खामेनेई ने स्‍वयं की है।
– ऐसा पहली बार है जब खामेनेई ने किसी बैठक की अध्‍यक्षता की है।

– विशेषज्ञों का कहना है कि ‘सुलेमानी की सीधे अमेरिका द्वारा हत्‍या किया जाना एक खुली चुनौती है और जवाबी कार्रवाई में ईरान को किसी बड़ी घटना को अंजाम देना होगा। इसके बाद यह यहीं पर खत्‍म नहीं हो जाएगा। इसकी चपेट में पूरा इलाका आ सकता है।’

किस ड्रोन से निशाना बनाया
– अमेरिका ने MQ-9 रीपर ड्रोन से ईरानी जनरल सुलेमानी को अपना निशाना बनाया।
– अमेरिकी वायुसेना इस मानवरहित एयरक्राफ्ट का इस्तेमाल साल 2007 से ही कर रही है।
– यह MQ सीरीज का नौवां संस्करण है जो लक्ष्य को तलाशकर उसे खत्‍म करने की क्षमता रखता है।
– इसमें लेजर गाइडेड हवा से जमीन पर मार करने वाले चार AGM-114 हेलफायर मिसाइल लगे होते हैं।

40 साल पुराना है ईरान-अमेरिका में तनाव
– अमेरिका ने 1980 में ईरान और इराक के बीच जंग में इराक का साथ दिया था।
– उसके बाद से ही दोनों देशों के बीच रिश्ते कभी सहज नहीं रहे।
– 1984 में अमेरिका ने ईरान को आतंकवाद बढ़ाने वाला देश करार दिया था और कई प्रतिबंध लगा दिए।
– तब से आज तक ईरान और अमेरिका के रिश्ते कभी सहज नहीं रहे।

———————————–
2. केंद्र सरकार ने BSNL और किस कंपनी के एकीकरण (merger) और 69 हजार करोड़ रुपए की पुनरुत्थान (revival) में तेजी लाने के लिए कितने सदस्‍यों के मंत्री समूह का हुआ गठन किया है?

a. VSNL
b. MTNL
c. IOCL
d. NTPC

Answer: b. MTNL

Group of Ministers (GoM) में
– रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह,
– आईटी और दूरसंचार मंत्री रविशंकर प्रसाद,
– गृह मंत्री अमित शाह,
– वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण,
– वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल और
– तेल मंत्री धर्मेंद्र प्रधान शामिल हैं।

– सरकार ने BSNL & MTNL के लिए 69,000 करोड़ रुपये की पुनरुत्थान पैकेज को मंजूरी दी थी, जिसमें दो घाटे में चल रही फर्मों का विलय, उनकी संपत्ति का मुद्रीकरण और कर्मचारियों को वीआरएस देना शामिल है।

———————————–
3. निर्वाचन आयोग ने राजनीतिक दल पंजीकरण सूचना प्रबंधन प्रणाली (PPRTMS) शुरू की है, इसके तहत पार्टी के गठन के कितने दिनों के भीतर आवेदन करना होगा?

a. 10 दिन
b. 20 दिन
c. 30 दिन
d. 40 दिन

Answer: c. 30 दिन

– राजनीतिक दलों का पंजीकरण जनप्रतिनिधित्व अधिनियम 1951 की धारा 29 ए के प्रावधानों द्वारा शासित होता है।

——————————–
4. स्वच्छ सर्वेक्षण लीग 2020 की पहली (अप्रैल से जून 2019) और दूसरी तिमाही (जुलाई से सितंबर 2019) के नतीजों के अनुसार 10 लाख से अधिक आबादी वाले शहरों में सर्वश्रेष्‍ठ कौन है?

a. भोपाल
b. इंदौर
c. सूरत
d. आगरा

Answer: a. इंदौर

कौन किस स्‍थान पर
i. इंदौर
ii. भोपाल
iii. सूरत

– इसे केंद्रीय आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय (MoHUA) ने हाल ही में जारी किया है।

——————————–
5. स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 की पहली तिमाही (अप्रैल से जून 2019) के नतीजों के अनुसार एक से 10 लाख से अधिक आबादी वाले शहरों में सर्वश्रेष्‍ठ कौन है?

a. जमशेदपुर(झारखंड)
b. नयी दिल्ली पालिका परिषद् क्षेत्र
c. खरगौन (मध्य प्रदेश)
d. इनमें से कोई नहीं

Answer: a. जमशेदपुर (झारखंड)

कौन किस स्‍थान पर
i. जमशेदपुर(झारखंड)
ii. नयी दिल्ली पालिका परिषद् क्षेत्र
iii. खरगौन (मध्य प्रदेश)

———————————-
6. स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 की दूसरी तिमाही (जुलाई से सितंबर 2019) के नतीजों के अनुसार एक से 10 लाख से अधिक आबादी वाले शहरों में सर्वश्रेष्‍ठ कौन है?

a. जमशेदपुर (झारखंड)
b. चंद्रपुर (महाराष्‍ट्र)
c. खरगौन (मध्य प्रदेश)
d. इनमें से कोई नहीं

Answer: a. जमशेदपुर (झारखंड)

कौन किस स्‍थान पर
i. जमशेदपुर (झारखंड)
ii. चंद्रपुर (महाराष्‍ट्र)
iii. खरगौन (मध्य प्रदेश)

———————————-
7. स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 की पहली तिमाही (अप्रैल से जून 2019) के नतीजों के अनुसार कैंटोनमेंट बोर्डों की श्रेणी में सर्वश्रेष्‍ठ कौन है?

a. दिल्ली छावनी (दिल्ली)
b. झांसी छावनी (उत्तर प्रदेश)
c. सेंट थॉमस माउंट कैंटोनमेंट (तमिलनाडु)
d. इनमें से कोई नहीं

Answer: a. सेंट थॉमस माउंट कैंटोनमेंट (तमिलनाडु)

कौन किस स्‍थान पर
i. सेंट थॉमस माउंट कैंटोनमेंट (तमिलनाडु)
ii. झांसी छावनी (उत्तर प्रदेश)
iii. दिल्ली छावनी (दिल्ली)

————————-
8. स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 के दूसरी तिमाही (जुलाई से सितंबर 2019) के नतीजों के अनुसार कैंटोनमेंट बोर्डों की श्रेणी में सर्वश्रेष्‍ठ कौन है?

a. दिल्ली छावनी (दिल्ली)
b. झांसी छावनी (उत्तर प्रदेश)
c. जालंधर छावनी (पंजाब)
d. इनमें से कोई नहीं

Answer: a. दिल्ली छावनी (दिल्ली)

कौन किस स्‍थान पर
i. दिल्ली छावनी बोर्ड (दिल्ली)
ii. झांसी छावनी बोर्ड (उत्तर प्रदेश)
iii. जालंधर छावनी बोर्ड (पंजाब)

– इसे केंद्रीय आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय (MoHUA) ने हाल ही में जारी किया है।

——————————–
9. भारतीय ओलंपिक संघ (IOA) ने बर्मिंघम में आयोजित होने वाले 2022 के किस खेलों के बहिष्‍कार के फैसले को वापस ले लिया है?

a. ओलंपिक गेम्‍स
b. कॉमनवेल्‍थ गेम्‍स
c. एशियाई गेम्‍स
d. फीफा वर्ल्‍ड कप

Answer: b. कॉमनवेल्‍थ गेम्‍स (राष्ट्रमंडल खेल)

– इससे पहले बहिष्कार का निर्णय निशानेबाजी प्रतियोगिता हटाये जाने के मुद्दे पर लिया गया था।
– अब नई दिल्‍ली में आयोजित ओलंपिक संघ की वार्षिक बैठक के दौरान बहिष्‍कार वापस लेने का फैसला हुआ।
– IOA ने यह भी घोषणा की कि भारत 2026 या 2030 में होने वाले राष्‍ट्रमंडल खेलों की मेजबानी के लिए भी प्रयास करेगा।

राष्ट्रमंडल खेल महासंघ के अध्यक्ष: डेम लुईस मार्टिन
भारतीय ओलंपिक संघ के प्रमुख: नरिंदर बत्रा

———————————-
10. पूर्व विश्व चैम्पियन मीराबाई चानू ने अंतरराष्ट्रीय भारोत्तोलन महासंघ (आईडब्ल्यूएफ) द्वारा जारी ओलंपिक क्वालीफायर रैंकिंग सूची में किस स्थान बरकरार रखा?

a. आठवें
b. चौथे
c. तीसरे
d. इनमें से कोई नहीं

Answer: a. आठवें


Free pdf Notes of Toady’s Current Affairs : DownloadClick Here

Free pdf One Liner MCQ Current Affairs : Download – Click Here

आप यूट्यूब चैनल सरकारी जॉब न्‍यूज पर भी करेंट अफेयर्स के वीडियो को देख सकते हैं।

 


Buy eBooks & PDF

About Us | Help Desk | Privacy Policy | Disclaimer | Terms and Conditions | Contact Us

©2022 Sarkari Job News powered by Alert Info Media Pvt Ltd.

Log in with your credentials

or    

Forgot your details?

Create Account