30th August 2021 Current Affairs, 31 August 2021 Current Affairs, Current Affairs 30th August 2021, 31 Aug 2021 Current Affairs, 30 Aug Current Affairs 2021, Current Affairs 30st August 2021,

यह  30th & 31st August 2021 का करेंट अफेयर्स है, जो आपके कांपटीटिव एग्‍जाम्‍स में मदद करेगा। इसका PDF Download Link इस पेज के लास्‍ट में मौजूद है। Current Affairs PDF आप इस पेज के आखिरी हिस्‍से से Free में डाउनलोड करें।

1. अमेरिकी सेना ने काबुल एयरपोर्ट को खाली किया, इसके बाद किसने अफगानिस्‍तान को आजाद मुल्‍क घोषित किया?

a. इस्‍लामिक स्‍टेट
b. अल कायदा
c. तालिबान
d. पाकिस्‍तान

Answer: c. तालिबान

– दरअसल, तालिबान के साथ हुए समझौते के तहत अमेरिका को 31 अगस्त 2021 तक पूरी तरह अफगानिस्तान को छोड़ देना था।
– लेकिन अमेरिकी फौज चौबीस घंटे पहले ही 30 अगस्‍त की देर रात को अफगानिस्तान से निकल गई।
– अमेरिका के सबसे लंबे युद्ध को समाप्त किया और अपने सैन्य इतिहास में एक अध्याय बंद कर दिया।

इतिहास में दर्ज हुआ फोटो
– US आर्मी के मेजर जनरल क्रिस डोन्‍ह्यू C-17 ट्रांसपोर्ट प्‍लेन में चढ़ते हुए।
– वह अफगानिस्‍तान की जमीन छोड़ने वाले आखिरी अमेरिकी सैनिक बने।
– इसके बाद अमेरिकी जनरल मैकेंजी ने अमेरिका में अफगानिस्तान से अमेरिकी सैनिकों की पूरी तरह वापसी की घोषणा कर दी।
– जनरल मैकेंजी ने ये भी बताया कि अफगानिस्तान छोड़ने की कोशिश कर रहे कुछ अमेरिकी नागरिक अभी अफगानिस्तान में ही रह गए हैं।

तालिबान ने अफगानिस्‍तान को आजाद देश घोषित किया
– जैसे ही अमेरिका के चार सैन्य परिवहन विमानों सी-17 ने काबुल एयरपोर्ट से उड़ान भरी, तालिबान के लड़ाकों ने जश्न में फायरिंग शुरू कर दी।
– तालिबान ने अफगानिस्तान के अमेरिका से मुक्त होने की घोषणा कर दी।
– तालिबान ने अफगानिस्‍तान के पूर्ण आजादी की घोषणा कर दी।
– तालिबान के प्रवक्‍ता ने कहा है कि “हम अमेरिका और दुनिया के साथ अच्छे संबंध चाहते हैं। हम उन सभी के साथ अच्छे राजनयिक संबंधों का स्वागत करते हैं।”

एयरपोर्ट में एयर ट्रैफिक कंट्रोल बंद
– तालिबान का कहना है कि उसके स्पेशल फोर्स बदरी 313 ने काबुल हवाई अड्डे की सुरक्षा की कमान संभाल ली है।
– रात को ही तालिबान के लड़ाके काबुल एयरपोर्ट के अंदर चले गए और वहां मौजूद विमानों और हेलीकॉप्‍टर को देखा।
– इसी बीच अमेरिकी नोटैम (नोटिस टू एयरमैन) ने आपात संदेश जारी कर कहा कि काबुल एयरपोर्ट अब किसी के नियंत्रण में नहीं है और यहां कोई एयर ट्रैफिक कंट्रोल भी नहीं है।
– इसका मतलब ये है कि किसी विमान का यहां से उड़ना या उतरना सुरक्षित नहीं है।

काबुल हवाई अड्डे के विमान बेकार किए
– अमेरिकी सेना ने कहा है कि काबुल एयरपोर्ट में पहले से मौजूद 73 विमानों को बेकार कर दिया गया है।
– ताकि तालिबान इसे न उड़ा सके।

अब तालिबान काबुल एयरपोर्ट कैसे चलाएगा?
– काबुल एयरपोर्ट को तकनीक‍ि मदद से चलाने के लिए तुर्की ने तालिबान को प्रस्‍ताव दिया है।

अमेरिका ने अफगानिस्‍तान का दूतावास कतर शिफ्ट किया
– अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने कहा- आज हमने काबुल में अपनी कूटनीतिक मौजूदगी को निरस्त कर दिया है और अपने ऑपरेशंस को कतर की राजधानी दोहा में ट्रांसफर किया है।
– अफगानिस्तान के साथ कूटनीतिक संबंध रखने के लिए हम दोहा, कतर में अपनी पोस्ट का इस्तेमाल करेंगे।
– अमेरिका अफगानिस्तान के लोगों को मानवीय मदद पहुंचाता रहेगा। – यह सरकार के जरिए नहीं, बल्कि संयुक्त राष्ट्र और गैर-सरकारी संस्थाओं के जरिए किया जाएगा।

भारत का रुख
– विदेश मंत्री एस. जयशंकर, एनएसए अजीत डोभाल और कई अन्य सीनियर ऑफिसर का हाईलेवेल ग्रुप भारत की तात्कालिक प्राथमिकताओं पर ध्यान देने के साथ अफगानिस्तान में जमीनी स्थिति की निगरानी कर रहा है।

UNSC का रुख
– UNSC ने 30 अगस्‍त 2021 को प्रस्‍ताव पारित किया।
– लेकिन इसमें परमानेंट 5 मेंबर्स में मतभेद सामने दिखे।
– भारत की अध्‍यक्षता में अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस द्वारा प्रस्‍ताव रखा गया था।
– इस वक्‍त भारतीय विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगाल अध्‍यक्षता कर रहे थे।
– प्रस्‍ताव में कहा गया है कि युद्धग्रस्त देश का इस्तेमाल किसी भी देश को धमकाने या हमला करने या आतंकवादियों को आश्रय देने के लिए नहीं किया जाना चाहिए।
– 13 परिषद सदस्यों के पक्ष में मतदान करने के बाद इसे अपनाया गया, जबकि स्थायी सदस्य रूस और चीन मतदान से दूर रहे।
– इसी के साथ भारत की अध्‍यक्षता का कार्यकाल UNSC से समाप्‍त हो गया।

तालिबान पर नरम पड़ गया संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद
– अफगानिस्तान की राजधानी काबुल पर कब्जा करने के दो सप्ताह बाद ही तालिबान को लेकर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का स्टैंड बदलता दिख रहा है।
– संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) ने काबुल एयरपोर्ट पर हुए हमले के बारे में अपना बयान जारी किया है।
– इस बयान में अफगानिस्तान मसले पर अपने लेटेस्ट बयान में आतंकी गतिविधियों से तालिबान का नाम हटा दिया है।

– टाइम्‍स ऑफ इंडिया ने एक आर्टिकल पब्लिश किया है, हेडिंग है – Lesson for India from Afghanistan retreat : US is an undependable (अन-डिपेन्डबल) ally.
– तो वहीं बात हुई, – हम थे, जिनके सहारे, वो हुए न हमारे।
– भारत ने अमेरिका के भरोसे अफगानिस्‍तान में अरबों डॉलर का निवेश किया और वही अमेरिका बोरिया-बिस्‍तर समेट कर चला जा रहा है।
– पूर्व भारतीय विदेश सचिव कंवल सिब्बल ने भी इस मसले पर ट्वीट किया है कि “यह आश्चर्य की बात नहीं है कि अमेरिका, जिसने स्पष्ट रूप से UNSC पर बयान के लिए ज़ोर दिया है।

तालिबान ने भारत से बेहतर संबंध की पेशकश की, भारत की चुप्‍पी
– तालिबान के प्रवक्‍ता ने कई भारतीय मीडिया ऑर्गेनाइजेशन को इंटरव्‍यू दिया।

तालिबान के पास अमेरिकी हथियारों का जखीरा
– अमेरिका के छोड़े हुए हथियारों पर तालिबान का कब्‍जा हो गया है।
– फोर्ब्स के आकलन के मुताबिक अमेरिका अफगानिस्तान में 8,84,311 आधुनिक सैन्य उपकरण छोड़ आया है।
– तालिबान के कब्‍जे में 109 फाइटर हेलीकॉप्‍टर हैं, जिनमें दुनिया का बेहतरीन हेलीकॉप्‍टर ब्‍लैकहॉक, एमआई-17 शामिल है।
– अफगान एयरफोर्स के 65 ट्रांसपोर्ट और फाइटर प्‍लेन तालिबान के कब्‍जे में हैं।
– इसके अलावा टैंक, बख्‍तरबंद वाहन, आर्मी ट्रक, वायरलेस सेट, 64 हजार मशीनगन, साढ़े तीन लाख से ज्‍यादा असॉल्‍ट रायफल, सवा लाख पिस्‍तौल, 176 आर्टिलरी फायरिंग वाले तोप, 16 हजार नाइट विजन डिसाइस भी हैं।

———————–
2. सुप्रीम कोर्ट में पहली बार एक साथ तीन महिला सहित 9 जजों ने शपथ ली, इनमें से कौन वर्ष 2027 तक पहली महिला CJI बन सकती हैं?

a. जस्टिस वीबी नगरत्‍ना
b. जस्टिस हिमा कोहली
c. जस्टिस बेला त्रिवेदी
d. इनमें से कोई नहीं

Answer: a. जस्टिस वीबी नगरत्‍ना

– SC के इतिहास में ऐसा पहली बार है, जब सुप्रीम कोर्ट में 9 जजों एकसाथ शपथ ली। इनमें 3 महिला जज भी हैं।
– 31 अगस्‍त 2021 को इन जजों ने शपथ ली।
– जजों में से एक जस्टिस नागरत्ना भी हैं, जो 2027 में देश की पहली महिला चीफ जस्टिस बन सकती हैं।
– इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट में जजों की संख्‍या 33 हो गई है।

चीफ जस्टिस एनवी रमना ने इन 9 जजों को शपथ दिलाई
1. जस्टिस बीवी नागरत्ना – पहले कर्नाटक हाईकोर्ट में जज
2. जस्टिस हिमा कोहली – पहले तेलंगाना हाईकोर्ट की जज
3. जस्टिस बेला त्रिवेदी – पहले गुजरात हाईकोर्ट में जज
4. जस्टिस अभय श्रीनिवास ओका – पहले बांबे हाईकोर्ट में जज
5. जस्टिस विक्रम नाथ – पहले गुजरात हाईकोर्ट में चीफ जस्टिस
6. जस्टिस जितेंद्र कुमार माहेश्वरी – पहले सिक्किम हाईकोर्ट में चीफ जस्टिस
7. जस्टिस पीएस नरसिम्हा – बार से सीधे सुप्रीम कोर्ट में अपॉइंट होने वाले वे देश के नौंवें जज हैं।
8. जस्टिस एमएम सुंदरेश – पहले केरल हाईकोर्ट में जज
9. जस्टिस सीटी रवि – पहले केरल हाईकोर्ट में जज

————————
3. टोक्‍यो पैरालंपिक 2020 (वर्ष 2021 में आयोजित) में पहला गोल्‍ड मेडेल जीतने वाली खिलाड़ी कौन हैं?

a. अवनि लेखरा
b. दीपा मलिक
c. भाविनाबेन पटेल
d. सीआर माधव

Answer: a. अवनि लेखरा

– उन्‍होंने निशानेबाजी में भारत के लिए टोक्‍यो ओलंपिक में पहला गोल्‍ड जीता।
– उन्‍होंने महिलाओं के 10 मीटर एयर राइफल के क्लास एसएच1 के फाइनल में 249 पॉइंट स्कोर कर गोल्ड मेडल अपने नाम किया।

अवनि लेखरा के बारे में
– वह जयपुर की रहने वाली हैं।
– अवनि बचपन से ही दिव्यांग नहीं थी। वर्ष 2012 में दुर्घटना में रीढ़ की हड्डी में चोट लग गई।
– इसके बाद फिर वह खड़े होने और चलने में असमर्थ हो गई।
– तब से वह व्‍हीलचेयर पर ही हैं।
– एक्सिडेंट के बाद अवनि कुछ दिन डिप्रेशन में रही और अपने आप को कुछ दिनों तक कमरे बंद कर लिया।
– माता-पिता के प्रयासों के बाद अवनि में आत्म विश्वास लौटा और अभिनव बिन्द्रा की बायोग्राफी से प्रेरणा लेकर वह निशानबाजी करने लगी।

– अपनी लखेरा ने पैरा वर्ल्‍डकप शूटिंग 2019 और 2021 में में सिल्‍वर जीता था।

————————-
4. टोक्‍यो पैरालंपिक में सुमित आंतिल ने किस खेल ईवेंट में गोल्‍ड मेडेल जीता?

a. बैडमिंटन
b. मुक्‍केबाजी
c. जेवलिन थ्रो
d. टेबल टेनिस

Answer: c. जेवलिन थ्रो (भाला फेंक)

– उन्होंने F64 कैटेगरी में 68.55 मीटर के बेस्ट थ्रो के साथ मेडल जीता।
– सुमित ने पैरालिंपिक में अपने ही वर्ल्ड रिकॉर्ड को तीन बार तोड़ा।
– उन्होंने पहले प्रयास में 66.95 मीटर का थ्रो किया, जो वर्ल्ड रिकॉर्ड बना।
– इसके बाद दूसरे थ्रो में उन्होंने 68.08 मीटर दूर भाला फेंका।
– सुमित ने अपने प्रदर्शन में और सुधार किया और 5वें प्रयास में 68.55 मीटर का थ्रो किया, जो कि नया वर्ल्ड रिकॉर्ड बन गया।

सुमित के बारे में
– वह हरियाणा के सोनीपत जिले के गांव खेवड़ा के निवासी हैं।
– सुमित जब उनके पिता रामकुमार (एयरफोर्स में कार्यरत) की बीमारी के चलते मौत हो गई थी।
– उनकी मां निर्मला ने मुश्किल हालातों से जूझते हुए सुमित सहित चारों बच्चों का पालन-पोषण किया।

कैसे अपना एक पैर खोया
– 12वीं क्‍लास में कॉमर्स की ट्यूशन से लौटते समय 5 जनवरी 2015 को एक ट्रैक्टर-ट्रॉली ने सुमित की बाइक को टक्कर मार दी।
– हादसे में सुमित ने अपना एक पैर गंवा दिया।
– 2016 में पुणे में उन्हें नकली पैर लगाया गया।
– धीरे-धीरे सुमित ने खेलों में रूचि लेना शुरू कर दिया।

———————–
5. अब तक के पैरालिंपिक में तीन मेडल जीतने वाले देश के पहले खिलाड़ी कौन बने?

a. सुमित आंतिल
b. देवेंद्र झाझड़िया
c. भाविनाबेन पटेल
d. निषाद कुमार

Answer: b. देवेंद्र झाझड़िया

– उन्‍होंने जेवलिन थ्रो के F64 कैटेगरी कैटेगरी में यह शानदार उपलब्धि हासिल की।
– देवेंद्र इससे पहले देवेंद्र साल 2004 एथेंस ओलिंपिक में गोल्ड और 2016 रियो ओलिंपिक में गोल्ड मेडल जीत चुके हैं।

करंट लगने से काटना पड़ा था हाथ
– देवेंद्र राजस्‍थान के रहने वाले हैं।
– देवेंद्र झाझड़िया जब 8 साल के थे। तब गांव में पेड़ पर चढ़ते समय हाई टेंशन लाइन की चपेट में आ गए थे।
– इससे बाएं हाथ में दिक्कत हो गई। हाथ कोहनी से काटना पड़ा था।
– देवेंद्र ने घर से बाहर निकलना बंद कर दिया, लेकिन मां जीवनी देवी ने उन्हें मोटिवेट किया।
– देवेंद्र ने धीरे-धीरे पढ़ाई के साथ जेवलिन थ्रो खेलना शुरू किया, और अब तीन ओलिंपिक मेडल जीतने वाले पहले खिलाड़ी बन चुके हैं।

———————–
6. टोक्‍यो पैरालंपिक 2020 (वर्ष 2021 में आयोजित) में टेबल टेनिस में किस खिलाड़ी ने सिल्‍वर मेडेल जीता?

a. आयशा खान
b. भाविनाबेन पटेल
c. विनोद कुमार
d. निषाद कुमार

Answer: b. भाविनाबेन पटेल

– उन्होंने टेबल टेनिस के विमेंस सिंगल्स में क्लास-4 कैटेगरी में मेडल दिलाया है।
– उन्होंने टोक्यो में पैरालिंपिक्स में देश के लिए पहला मेडल जीता।
– वह टेबल टेनिस में मेडल जीतने वाली भी देश की पहली पैरा खिलाड़ी हैं।
– भाविना ने यह जीत व्‍हील चेयर पर बैठकर पाई।

भाविना बेन पटेल के बारे में
– भाविना, गुजरात के मेहसाणा जिले की रहने वाली हैं।
– वह जब एक साल की उम्र की थीं, तो चलने की कोशिश में गिर गईं, उस समय उनके एक पैर में पोलियो की वजह से लकवा हो गया।
– बाद में उनका दूसरा पैर भी लकवे से बेकार हो गया।
– उनके पिता हंसमुख भाई पटेल गांव में ही छोटी सी दुकान चलाते हैं।
– भाविना बेन, तीन भाई-बहनों में सबसे छोटी हैं।
– वह कर्मचारी बीमा निगम में नौकरी करती हैं।

———————–
7. टोक्यो पैरालंपिक में निषाद कुमार ने किस खेल में सिल्‍वर मेडेल जीता?

a. टेनिस
b. हॉकी
c. दौड़
d. हाई जंप

Answer: d. हाई जंप

– मेंस T47 हाई जंप में निषाद कुमार ने 2.06 मीटर की जंप लगाई।
– पैरालिंपिक स्पोर्ट्स की T47 कैटेगरी में ऐसे एथलीट हिस्सा लेते हैं जिनका कोई एक हाथ कोहनी से नीचे कटा हुआ होता है।
– इसके साथ ही निषाद कुमार ने एशियन रिकॉर्ड बनाया।

निषाद कुमार के बारे में
– वह हिमाचल प्रदेश के ऊना जिले के रहने वाले हैं।
– निषाद के पिता मजदूर हैं और दूसरों के खेतों में काम करके घर चलाते हैं।
– वर्ष 2007 में जब वह चौथी क्लास में थे, तो घास काटने वाली मशीन से दाहिना हाथ कट गया था।
– उन्‍होंने दैनिक भास्‍कर को दिए इंटरव्‍यू में कहा है कि जब मेरा हाथ कट गया, तो उसके बाद लड़के मुझे चिढ़ाते थे। तब मुझे काफी बुरा लगता था। मेरे माता-पिता मुझे समझाते थे कि इसे अपनी कमजोरी मत बनने दो।
– घर की माली हालत भी काफी खराब थी, ऐसे में ट्रेनिंग के लिए मेरे पास अच्छे जूते और जेवलिन तक नहीं था। मेरे पास किट भी नहीं होता था। कई बार हमें बड़ी मुश्किल से भरपेट खाना मिल पाता था।

– उन्‍होंने कहा कि 2018 में मुझे कॉलेज में आने के बाद पैरा गेम्स के बारे में पता चला।
– तब इस खेल की ओर रुझान बढ़ा।
– निषाद ने यह मेडल अपने मजदूर माता-पिता को समर्पित किया है।
– निषाद कहते हैं कि उनके माता-पिता ने दूसरों के खेतों में काम करके यहां तक पहुंचाया है।

निषाद कुमार के एचीवमेंट्स
– वर्ष 2021 में दुबई में पैरा एथलेटिक्‍स ग्रैंड प्रिक्‍स में टी-47 कैटेगरी के हाई जंप में गोल्‍ड।
– वर्ष 2019 में दुबई पैरा एथलेटिक्‍स वर्ल्‍ड चैंपियनशिप में टी-47 कैटेगरी के हाईजंप में ब्रॉन्‍ज।
– वर्ष 2019 में दुबई में पैरा एथलेटिक्‍स ग्रैंड प्रिक्‍स में टी-47 कैटेगरी के हाईजंप में गोल्‍ड।

——————
8. टोक्‍यो पैरालंपिक में योगेश कथुनिया ने किस खेल ईवेंट में सिल्‍वर मेडेल जीता?

a. डिस्कस थ्रो
b. जेवलिन थ्रो
c. हॉकी
d. बैडमिंटन

Answer: a. डिस्कस थ्रो

– उन्‍होंने डिस्कस थ्रो के F56 कैटेगरी में यह मेडेल जीता।
– छठे और अंतिम राउंड में योगेश ने 44.38 मीटर की दूरी तक चक्का फेंक और सिल्वर मेडल अपने नाम कर लिया।

– वह हरियाणा के बहादुरगढ़ के रहने वाले हैं।
– नौ साल की उम्र में उन्‍हें पैरालिसिस हो गया था।
– 2017 में कॉलेज में एंट्री के साथ दोस्तों ने उसका हौंसला बढ़ाया और पैरा स्पोर्ट्स को लेकर जागरूक किया।
– उसके बाद वह खेलों में हिस्सा लेने लगे और डिस्कस थ्रो को अपनी लाइफ का हिस्सा बनाने के बाद एक बाद एक के बाद कई मुकाम हासिल किए।

अन्‍य उलब्‍धियां –
– 2018 में बर्लिन में पैरा-एथलेटिक्‍स में गोल्‍ड। ‘डिस्‍कस एफ 36’ कैटेगरी में में वर्ल्‍ड रिकॉर्ड तोड़ा
– 2017 में 45.18 मीटर का थ्रे करके चीन के कुकिंग के 42.96 मीटर का वर्ल्‍ड रिकॉर्ड तोड़ा
– विश्‍व पैरा एथलेटिक्‍स डिस्‍कस थ्रो एफ-56 कैटेगरी में 42.05 मीटर का थ्रो करके सिल्‍वर जीता।

————————
9. मेंस F52 डिस्कस थ्रो कैटेगरी में विनोद 19.91 मीटर के बेस्ट थ्रो के साथ तीसरे स्थान पर रहे। हालांकि उनके रिजल्ट को पैरालंपिक कमेटी ने खारिज कर दिया।

– कुछ देशों ने उनकी क्लासिफिकेशन कैटेगरी को लेकर आपत्ति जताई थी।
Vinod kumar, 30th August 2021 Current Affairs, 31 August 2021 Current Affairs, Current Affairs 30th August 2021, 31 Aug 2021 Current Affairs, 30 Aug Current Affairs 2021, Current Affairs 30st August 2021,

——————
10. दुनिया का सबसे ऊंचा सिनेमा थिएटर कहां पर स्‍थापित हुआ?

a. जम्‍मू कश्‍मीर
b. लद्दाख
c. नेपाल
d. तिब्‍बत

Answer: b. लद्दाख

– यह सिनेमा थिएटर समुद्र तल से 11,562 फुट की ऊंचाई पर स्थापित किया गया है।
– इसे दुनिया का सबसे ऊंचा सिनेमा थिएटर बताया जा रहा है।
– लद्दाख के पहले सिनेमा थिएटर में चंगपा खानाबदोश समुदाय पर बनी प्रसिद्ध सेकूल फिल्म प्रदर्शित की गई।

——————–
11. ओलंपिक गोल्‍ड मेडेल विजेता नीरज चोपड़ा के नाम पर किस शहर में स्‍टेडियम का नामाकरण हुआ?

a. दिल्‍ली
b. मुंबई
c. चेन्‍नई
d. पुणे

Answer: d. पुणे

– इस स्‍टेडियम का अनावरण रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 27 अगस्‍त 2021 को किया।
– एथलीट नीरज चोपड़ा (Neeraj Chopra) को भारतीय सेना ने खास अंदाज में सम्मानित किया।
– उनके पर सेना ने पुणे कैंट के आर्मी स्पोर्ट्स इंस्टीट्यूट में एक स्टेडियम का नामकरण किया है।
– रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने चोपड़ा को एथलेटिक्स में ओलंपिक पदक जीतने वाले देश के पहले खिलाड़ी बनने के लिए भी सम्मानित किया।

————————–
12. किस राज्‍य सरकार ने कोरोना से अपने पति को खोने वाली महिलाओं के लिए ‘मिशन वात्‍सल्‍य’ शुरू किया?

a. उत्‍तर प्रदेश
b. महाराष्‍ट्र
c. बिहार
d. झारखंड

Answer: b. महाराष्‍ट्र

– महाराष्ट्र सरकार के महिला एवं बाल विकास विभाग ने ‘मिशन वात्सल्य’ शुरू किया है।
– कार्यक्रम विशेष रूप से ग्रामीण क्षेत्रों से आने वाली महिलाओं के लिए तैयार किया गया है, जो गरीब और वंचित वर्गों से आती हैं।

महाराष्ट्र
राजधानी : मुंबई
मुख्‍यमंत्री : उद्धव ठाकरे
राज्यपाल : भगत सिंह कोश्यारी

———————-
13. परमाणु परीक्षण के खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय दिवस कब मनाया जाता है?

a. 27 अगस्त
b. 28 अगस्त
c. 29 अगस्त
d. 30 अगस्त

Answer: c. 29 अगस्त

– इस दिन का उद्देश्य परमाणु हथियार परीक्षण विस्फोटों या किसी अन्य परमाणु विस्फोटों के प्रभावों के बारे में जागरूकता बढ़ाना और परमाणु-हथियार-मुक्त दुनिया के लक्ष्य को प्राप्त करना है।

———————
14. राष्‍ट्रीय खेल दिवस कब मनाया जाता है?

a. 28 अगस्‍त
b. 29 अगस्‍त
c. 30 अगस्‍त
d. 31 अगस्‍त

Answer: b. 29 अगस्‍त

– हॉकी खिलाड़ी मेजर ध्यानचंद की जयंती पर हर वर्ष 29 अगस्त को खेल दिवस मनाया जाता है।
– सरकार ने इस महीने की 6 तारीख को मेजर ध्यानचंद के सम्मान में उनके नाम पर राष्ट्रीय खेल रत्न पुरस्कार का नामकरण किया था।

 


Free Download Notes PDF of Toady’s Current Affairs : – Click Here

Free Download One Liner MCQ PDF –  Current Affairs : – Click Here

Buy eBooks & PDF

About Us | Help Desk | Privacy Policy | Disclaimer | Terms and Conditions | Contact Us

©2021 Sarkari Job News powered by Alert Info Media Pvt Ltd.

Log in with your credentials

or    

Forgot your details?

Create Account