यह 26 to 28 February 2021 का करेंट अफेयर्स है, जो आपके कांपटीटिव एग्‍जाम्‍स में मदद करेगा। इसका PDF Download Link इस पेज के लास्‍ट में मौजूद है। Current Affairs PDF आप इस पेज के आखिरी हिस्‍से से Free में डाउनलोड करें।

1. भारत निर्वाचन आयोग (ECI) ने पांच राज्‍यों व केंद्र शासित प्रदेशों (पश्चिम बंगाल, केरल तमिलनाडु, असम, पुदुचेरी) में चुनाव का ऐलान किया, इसके नतीजे कब आएंगे?

a. 2 अप्रैल
b. 2 मई
c. 2 जून
d. 2 जुलाई

Answer: b. 2 मई

– पांच राज्यों में चुनावों की तारीखों का ऐलान हो गया है।
– ये राज्य पश्चिम बंगाल, केरल, तमिलनाडु, असम और पुडुचेरी हैं।
– मुख्‍य चुनाव आयुक्‍त सुनील अरोड़ा ने यह ऐलान किया।
– दो अन्‍य चुनाव आयुक्‍त : सुशील चंद्रा और राजीव कुमार

पश्चिम बंगाल
– विधानसभा की कुल सीटें : 294
– यहां आठ फेज में वोटिंग होगी। 27 मार्च से 29 अप्रैल (27 मार्च, 1, 6, 10, 17, 22, 26, 29 अप्रैल) तक मतदान होगा।
– पश्चिम बंगाल में प्रमुख राजनीति पार्टियां : तृणमूल कांग्रेस, भाजपा, कांग्रेस, लेफ्ट पार्टियां व अन्‍य
मुख्‍यमंत्री : ममता बनर्जी
राज्‍यपाल : जगदीप धनखड़

केरल
– विधानसभा की कुल सीटें : 140
– यहां 6 अप्रैल (एक फेज में) को मतदान होगा।
– केरल में प्रमुख राजनीतिक पार्टियां : माकपा और भाकपा का लेफ्ट डेमोक्रेटिक फ्रंट (LDF), कांग्रेस व कुछ अन्‍य पार्टी का यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (UDF), भाजपा और अन्‍य
मुख्‍यमंत्री : पी विजयन
राज्‍यपाल : आरिफ मोहम्‍मद खान

तमिलनाडु
– विधानसभा की कुल सीटें : 234
– यहां 6 अप्रैल (एक फेज में) को मतदान होगा।
– तमिलनाडु में राजनीतिक पार्टी और गठबंधन DMK की अगुआई में UPA, AIADMK की अगुआई में NDA
मुख्‍यमंत्री : के पलानीस्‍वामी
राज्‍यपाल : बनवारीलाल पुरोहित

असम
– विधानसभा में कुल सीटें : 126
– असम में 27 मार्च, 1 और 6 अप्रैल (तीन फेज) को मतदान होगा।
मुख्‍यमंत्री : सर्बानंद सोणेवाल
राज्‍यपाल : जगदीश मुखी

पुदुचेरी
– विधानसभा सीटें : 33 (30 Elected + 3 Nominated)
– पुदुचेरी में 6 अप्रैल को मतदान होंगे।
मुख्‍यमंत्री : पद खाली
राज्‍यपाल : तमिलसाई सौंदरराजन

—————————–
2. केंद्र सरकार ने सोशल मीडिया और OTT प्‍लेटफॉर्म के लिए गाइडलाइन जारी की, इसके तहत सरकार या ज्‍यूडीशियरी के निर्देश पर कितने समय में कंपनियों को कंटेंट हटाना होगा?

a. 24 मिनट
b. 24 घंटे
c. 24 दिन
d. 48 दिन

Answer: b. 24 घंटे

– केंद्र सरकार ने डिजिटल मीडिया को लेकर भी चेंजेज किए गए हैं।
– सरकार ने 25 फरवरी 2021 को प्रेस कांफ्रेंस अनाउंस किया कि, जो भी सोशल मीडिया प्‍लेटफॉर्म है, उन्‍हें प्रॉपर गाइडलाइन माननी पड़ेगी।
– सरकार का मानना है कि सोशल मीडिया कंपनियों को रूल्‍स मानने होंगे, तभी वो काराबोर कर सकते हैं।
– नियम का नाम – – ‘इंफॉर्मेशन टेक्‍नोलॉजी (गाइडलाइंस फॉर इंटरमीडिअरीज एंड डिजिटल मीडिया एथिक्‍स कोड) रूल्‍स 2021’
– Information Technology (Guidelines for Intermediaries and Digital Media Ethics Code) Rules 2021.
– 2011 में भी कुछ रूल्‍स आया था, उसे सुपरसीड कर देगा नया रूल्‍स।

सोशल मीडिया पॉलिसी में क्‍या है?
– दो तरह की कैटिगरी हैं: सोशल मीडिया इंटरमीडियरी और सिग्निफिकेंट सोशल मीडिया इंटरमीडियरी।
– सबको ग्रीवांस रीड्रेसल मैकेनिज्‍म बनाना पड़ेगा। 24 घंटे में शिकायत दर्ज होगी और 14 दिन में निपटाना होगा।
– अगर यूजर्स खासकर महिलाओं के सम्‍मान से खिलवाड़ की शिकायत हुई तो 24 घंटें में कंटेंट हटाना होगा।
– गैरकानूनी मामले में सरकार या न्‍यायपालिका के निर्देश पर 24 घंटे में कंटेंट को हटाना होगा।
– सिग्निफिकेंड सोशल मीडिया को चीफ कम्‍प्‍लायंस ऑफिसर रखना होगा जो भारत का निवासी होगा।
– एक नोडल कॉन्‍टैक्‍ट पर्सन रखना होगा जो कानूनी एजेंसियों के चौबीसों घंटे संपर्क में रहेगा।
– मंथली कम्‍प्‍लायंस रिपोर्ट जारी करनी होगी।
– सोशल मीडिया पर कोई खुराफात सबसे पहले किसने की, इसके बारे में सोशल मीडिया कंपनी को बताना पड़ेगा।
– हर सोशल मीडिया कंपनी का भारत में एक पता होना चाहिए।
– हर सोशल मीडिया प्‍लेटफॉर्म के पास यूजर्स वेरिफिकेशन की व्‍यवस्‍था होनी चाहिए।
– सोशल मीडिया के लिए नियम नोटिफिकेशन के साथ ही लागू हो जाएंगे। सिग्निफिकेंड सोशल मीडिया इंटरमीडियरी को तीन महीने का वक्‍त मिलेगा।

ओटीटी प्‍लेटफॉर्म्‍स के लिए क्‍या हैं गाइडलाइंस?
– OTT और डिजिटल न्‍यूज मीडिया को अपने बारे में विस्‍तृत जानकारी देनी होगी। रजिस्‍ट्रेशन अनिवार्य नहीं है।
– दोनों को ग्रीवांस रीड्रेसल सिस्‍टम लागू करना होगा। अगर गलती पाई गई तो खुद से रेगुलेट करना होगा।
– OTT प्‍लेटफॉर्म्‍स को सेल्‍फ रेगुलेशन बॉडी बनानी होगी जिसे सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जज या कोई नामी हस्‍ती हेड करेगी।
– सेंसर बोर्ड की तरह OTT पर भी उम्र के हिसाब से सर्टिफिकेशन की व्‍यवस्‍था हो। एथिक्‍स कोड टीवी, सिनेमा जैसा ही रहेगा।
– डिजिटल मीडिया पोर्टल्‍स को अफवाह और झूठ फैलाने का कोई अधिकार नहीं है।

———————————-
3. देश का पहला राज्‍य, जिसने महिलाओं को पति की पैतृक संपत्ति में सह-स्वामित्व का अधिकार (Co-ownership right) दिया?

a. उत्‍तराखंड
b. उत्‍तर प्रदेश
c. हिमाचल प्रदेश
d. पंजाब

Answer: a. उत्‍तराखंड

– उत्तराखंड सरकार ने पति की पैतृक संपत्ति में महिलाओं को सह-स्वामित्व का अधिकार देने के लिए एक अध्यादेश 19 फरवरी 2021 को लागू किया।
– उत्तराखंड ही ऐसा पहला राज्य है जो अपनी महिलाओं की पैतृक संपत्ति में सह-स्वामित्व अधिकार देता है।
– ये अध्यादेश आजीविका की तलाश में राज्य के पर्वतीय क्षेत्रों से बड़ी संख्या में पुरुषों के दूसरी जगह जाने के मद्देनजर लाया गया है।
– अध्यादेश महिलाओं को आर्थिक स्वतंत्रता उपलब्ध कराने पर केंद्रित है जो पीछे रह जाती हैं और जिन्हें अपनी गुजर-बसर के लिए खुद कृषि पर ही निर्भर रहना पड़ता है।

देश में महिलाओं को लेकर संपत्ति का कानून?
– भारत में महिलाओं के संपत्ति अधिकार धर्म और जनजाति के संबंध में अलग अलग हैं।
– हिंदू उत्तराधिकार (संशोधन) अधिनियम, 2005 में संपत्ति की दो श्रेणिया हैं: पैतृक और स्वअर्जित।
– स्‍वअर्जित संपत्ति : जो कोई अपने पैसे से खरीदता है, यह संपत्ति जिसे चाहे उसे दी जा सकती है। अगर वह बेटी को कुछ न दे तो भी वह संपत्ति पर दावा नहीं कर सकती।
– पैतृक संपत्ति : पैतृक संपत्ति में पुरुषों की वैसी अर्जित संपत्तियां आती हैं, जो कुछ पीढ़ी पहले की हो।
– साल 2005 से पहले तक पै‍तृक संपत्ति पर केवल बेटों का अधिकार होता था, लेकिन उसके बाद से बेटियों को भी बराबरी का अधिकार दे दिया गया।
– इसके बाद बेटी को पैतृक संपत्ति में जन्म से ही साझीदार बना दिया गया।
– बेटियों को इस बात का भी अधिकार दिया गया कि वह कृषि भूमि का बंटवारा करवा सकती है।
– पिछले साल एक फैसले में सुप्रीम कोर्ट ने बेटियों को समान उत्‍तराधिकारी का दर्जा दे दिया था।
– इसके बाद बेटी के विवाह से पिता की संपत्ति पर उसके अधिकार में कोई बदलाव नहीं आता है।

पति की संपत्ति में अधिकार?
– शादी के बाद पति की संपत्ति पर महिला का हक नहीं होता लेकिन भरण-पोषण का अधिकार मिला है।
– वैवाहिक विवादों से संबंधित मामलों में कई कानूनी प्रावधान हैं, जिनके जरिए पत्नी गुजारा भत्ता मांग सकती है।
– लेकिन उत्‍तराखंड अब ऐसा पहला राज्‍य बन गया है, जो पति के पैतृक संपत्ति पर बराबर का अधिकार देता है।

उत्‍तराखंड सरकार के फैसला महत्‍व
– उत्‍तराखंड में, विशेष रूप से पहाड़ी क्षेत्रों में, पति और पत्नी दोनों अपनी आजीविका के लिए खेती में शामिल हैं।
– लेकिन आमतौर पर यह देखा गया है कि पति खेत की जुताई जैसे भारी श्रम का काम करते हैं।
– दूसरी ओर, 90 प्रतिशत खेती के कामों में महिलाएँ शामिल होती हैं, इसके बावजूद, महिलाओं की मेहनत को मान्यता नहीं मिली है और उन्हें जमीन पर किसी भी तरह का स्वामित्व नहीं मिला है।
– यह महिलाओं को खेती से संबंधित कार्य के लिए ऋण देने में मदद करेगा।
– जब उनके पास स्वामित्व अधिकार नहीं था, वह लोन लेने में सक्षम नहीं थीं।

– उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने इसे अपनी सरकार का सबसे बड़ा सुधार बताया।
– उन्‍होंने कहा कि इस फैसले के तहत यदि महिला तलाक लेती है और दोबारा शादी नहीं करती है तो भी वह संपत्ति की अधिकारी होगी।
– अगर मह‍िला दोबारा शादी करती है, तो पूर्व पति के पिता की संपत्ति का अधिकार नहीं होगा।
– यदि महिला की कोई संतान नहीं है, उसे भी संपत्ति पर अधिकार होगा।

उत्‍तराखंड की राज्‍यपाल- बेबी रानी मौर्या
राजधानी- गैरसांण (गर्मियों में)
देहरादून (सर्दियों में)

———————————
4. किस अदालत ने फैसला सुनाया कि महिला का मायका पक्ष भी परिवार का हिस्सा है और विधवा की तरफ से अपने भाइयों के बेटों के नाम संपत्ति करना गलत नहीं है?

a. दिल्‍ली हाईकोर्ट
b. बांबे हाईकोर्ट
c. कलकत्‍ता हाईकोर्ट
d. सुप्रीम कोर्ट

Answer: d. सुप्रीम कोर्ट

– अदालत ने यह फैसला फरवरी 2021 को सुनाया।
– जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस आर. सुभाष रेड्डी की पीठ ने कहा कि हिंदू उत्तराधिकार अधिनियम की धारा 15 (1)(डी) में महिला के पिता के उत्तराधिकारियों को महिला की संपत्ति के उत्तराधिकारियों में शामिल किया गया है।
– दरअसल, सुप्रीम कोर्ट की डबल बेंच ने महिला के देवर के बच्चों की उस याचिका को खारिज कर दिया जिसमें महिला द्वारा अपने भाई के बच्चों को संपत्ति दिये जाने को चुनौती दी गई थी।

——————————-
5. उत्तर प्रदेश विधानसभा ने 24 फरवरी 2021 को ‘विधि विरुद्ध धर्म संपरिवर्तन प्रतिषेध विधेयक-2021’ को मंजूरी दी, इसके तहत अधिकतम कितने साल की सजा का प्रावधान है?

a. दस साल
b. पांच साल
c. दो साल
d. पंद्रह साल

Answer: a. दस साल

– यूपी सरकार ने नवंबर 2020 में इस संबंध में अध्‍यादेश लागू किया था।
– लेकिन, अध्यादेश के नियमों के तहत सरकार को 6 महीने के भीतर सदन में बिल पेश करके प्रस्ताव पास कराना होता है.

अध्‍यादेश की मुख्‍य बातें –
– लालच ,झूठ बोलकर या ज़ोर ज़बरदस्ती किये गए धर्म परिवर्तन या शादी के लिए किए गए धर्म परिवर्तन को अपराध माना जाएगा।
– नाबालिग, अनुसूचित जाति-जनजाति की महिला के धर्मपरिवर्तन पर कड़ी सजा होगी।
– सामूहिक धर्म परिवर्तन कराने वाले सामाजिक संगठनों के खिलाफ कार्रवाई होगी
– धर्म परिवर्तन के साथ अंतर धार्मिक शादी करने वाले को साबित करना होगा कि उसने इस कानून को नही तोड़ा।
– लड़की का धर्म बदलकर की गई शादी को शादी नही माना जायेगा।
– ज़बरदस्ती प्रलोभन से किया गया धर्म परिवर्तन संज्ञेय और गैर जमानती अपराध होगा

कानून तोड़ने पर सजा
– इस कानून को तोड़ने पर कम से कम 15 हज़ार रुपये जुर्माना और एक से पांच साल तक की सज़ा होगी
– यही काम नाबालिग या अनुसूचित जाति या जनजाति की लड़की के साथ करने में कम से कम 25 हज़ार रुपये जुर्माना और 3 से दस साल तक की सज़ा होगी।
– गैरकानूनी सामूहिक धर्म परिवर्तन में कम से कम पचास हज़ार रुपये जुर्माना और तीन से दस साल तक की सजा होगी।
– धर्म परिवर्तन के लिए तयशुदा फॉर्म भरकर दो महीने पहले डीएम को देना होगा, इसे न मानने पर छह महीने से तीन साल की सज़ा और कम से कम दस हज़ार रुपये जुर्माना होगा।

———————————
6. गृह मंत्री अमित शाह ने किस अर्धसैनिक बल के इतिहास पर आधारित पुस्‍तक ‘राष्‍ट्र प्रथम – 82 वर्षों की स्‍वर्णिम गाथा’ को लांच किया?

a. BSF
b. CISF
c. CRPF
d. ITBP

Answer: c. CRPF

– गृह मंत्री ने 19 फरवरी को इस पुस्‍तक को लांच किया।
– यह सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स के इतिहास पर आधाारित है।
– पुस्‍तक में तथ्‍यों का संकलन दिल्‍ली यूनिवर्सिटी के डॉ. भुवन कुमार झा ने किया।

———————————
7. दादा साहब फाल्के इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल अवार्ड्स 2021 में बेस्ट एक्‍ट्रेस (female) के लिए किसे चुना गया?

a. सारा अली खान
b. दीपिका पादुकोण
c. कंगना रनौत
d. भूमि पेडनेकर

Answer: b. दीपिका पादुकोण

– 20 फरवरी 2021 को अवार्ड का पांचवां सस्‍करण मुंबई में हुआ, जिसमें कई कैटेगरी में इस अवॉर्ड की घोषणाएं हुई थीं।
– दीपिका पादुकोण को फिल्म ‘छपाक’ के लिए बेस्ट एक्ट्रेस का पुरस्कार दिया।
– पिछले दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दादा साहब फाल्के इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल अवॉर्ड्स की टीम को शुभकामनाएं भेजी थीं।

(Note : ये अवार्ड वो नहीं है जो सरकार देती है। यह दादा साहब फाल्‍के के नाम पर एक संगठन बना है, वह इसे आयोजित करता है।)

————————————–
8. दादा साहब फाल्के इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल अवार्ड्स 2021 में बेस्ट एक्‍टर (male) के लिए किसे चुना गया है?

a. अजय देवगन
b. वरुण धवन
c. अक्षय कुमार
d. सुशांत सिंह राजपूत

Answer: c. अक्षय कुमार

– मूवी ‘लक्ष्मी’ के लिए अक्षय कुमार को ये पुरस्‍कार मिला है।
– ये मूवी ओटीटी प्‍लेटफार्म पर रिलीज हुई थी, जो हॉरर कामेडी के साथ दिखाई गई है।
– इसका प्रोडेक्‍शन खुद अक्षय ने ही किया है।
– ये मूवी साउथ की मूवी कंचना का रीमेक है।

————————————–
9. दादा साहब फाल्के इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल अवार्ड्स 2021 में बेस्ट मूवी का अवार्ड किसे दिया गया है?

a. मणिकर्णिका
b. लव आज कल
c. छपाक
d. तान्हाजी : द अनसंग वॉरियर’

Answer: d. तान्हाजी : द अनसंग वॉरियर’

– अजय देवगन और काजोल की ये मूवी ओम राउत के डायरेक्शन में बनी है।
– अजय देवगन, भूषण कुमार और कृष्ण कुमार ने इसका प्रोडक्‍शन किया है।
– 17 वीं शताब्दी में स्थापित, यह कहानी तानाजी मालुसरे के जीवन के इर्द-गिर्द घूमती है, जिसमें कोंधना किले को फिर से हासिल करने के उनके प्रयासों को दर्शाया गया है।

– इसके अलावा दादा साहब फाल्के इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल अवार्ड्स 2021 में इन्‍हें भी मिला सम्‍मान-
– बेस्ट एक्‍ट्रेस (female) : दीपिका पादुकोण
– बेस्ट एक्‍टर (male) : अक्षय कुमार
– बेस्ट मूवी : तान्हाजी : द अनसंग वॉरियर
– क्रिटिक्स बेस्ट एक्ट्रेस: किआरा आडवाणी, Guilty
– क्रिटिक्स बेस्ट एक्टर: स्व. सुशांत सिंह राजपूत, दिल बेचारा
– बेस्ट इंटरनेशनल फीचर फिल्म: Parasite
– मोस्ट वर्सटाइल एक्टर – के. के. मेनन
– बेस्ट डायरेक्टर: अनुराग बासु, लूडो
– बेस्ट एक्ट्रेस इन सपोर्टिंग रोल: राधिका मदान, अंग्रेजी मीडियम
– बेस्ट एक्टर इन कॉमिक रोल: कुणाल केमू, लूटकेस
– बेस्ट एक्टर (Web Series): बॉबी देओल, आश्रम
– बेस्ट एक्ट्रेस (Web Series): सुष्मिता सेन, आर्या
– बेस्ट वेब सीरीज: Scam (1992)

दादा साहब फाल्के इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल-
– दादासाहेब फाल्के इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल सबसे रचनात्मक फिल्म निर्माताओं को सम्मानित करने और इस क्षेत्र में दिए गए उनके योगदान को सराहने का एक प्रतिष्ठित मंच है।
– यह उन बेस्ट कथाकार, रचनात्मक लेखकों, भावुक फिल्म निर्माताओं और महान कलाकारों को याद करता है जो भारतीय सिनेमा का हिस्सा हैं।
(Note : ये अवार्ड वो नहीं है जो सरकार देती है दादा साहब फाल्‍के के नाम पर एक संगठन बना है, वह इसे आयोजित करता है।)

————————————–
10. किस देश की अदालत ने भगोड़े नीरव मोदी को भारत प्रत्‍यर्पण की मंजूरी दी?

a. यूएसए
b. फ्रांस
c. बेल्जियम
d. यूनाइटेड किंगडम

Answer: d. यूनाइटेड किंगडम

– हीरा कारोबारी नीरव मोदी पंजाब नेशनल बैंक (PNB) के 14 हजार करोड़ से भी अधिक के लोन की धोखाधड़ी का घोटाले में वांटेड है।
– साउथ-वेस्‍ट लंदन के District Judge सेमुअल गूजी ने 25 फरवरी 2021 को नीरव को भारत भेजने की मंजूरी दे दी।
– जज ने माना कि नीरव मोदी के खिलाफ पर्याप्त सबूत हैं। 2 साल चली कानूनी लड़ाई के बाद यह फैसला आया है।
– जज ने कहा कि नीरव मोदी को भारत भेजा जाता है तो ऐसा नहीं है कि उन्हें वहां इंसाफ न मिले। कोर्ट ने नीरव मोदी की मानसिक स्थिति ठीक न होने की दलील भी खारिज कर दी है।
– कहा कि ऐसा नहीं लगता उन्हें ऐसी कोई परेशानी है। कोर्ट ने मुंबई की ऑर्थर रोड जेल की बैरक नंबर-12 को नीरव के लिए फिट बताया।
– वकीलों ने नीरव को मानसिक रूप से बीमार बताया था।
– नीरव मोदी 19 मार्च 2019 को गिरफ्तार होने के बाद से जेल में है।
– उसने कई बार जमानत हासिल करने की कोशिश की थी, लेकिन हर बार उसकी याचिका खारिज हो गई, क्योंकि उसके फरार होने का जोखिम है।

अभी भी आसान नहीं है प्रत्‍यर्पण
– अब यह मामला हाईकोर्ट जाएगा।
– इसके बाद यूनाइटेड किंगडम की सरकार यह तय करेगी कि नीरव मोदी को भारत प्रत्‍यर्पित किया जाना चाहिए या नहीं।
– क्‍यों इससे पहले देखा गया है कि भगोड़ा शराब कारोबारी विजय माल्‍या को भी भारत में प्रत्‍यर्पित करने की अनुमति अदालत ने दे दी थी, लेकिन यूके गवर्नमेंट ने कानूनी जटिलताएं बताकर उसे अब तक (फरवरी 2021 तक) भारत को नहीं सौंपा है।

———————————
11. किस राज्‍य सरकार ने फरवरी 2021 में सरकारी कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति की उम्र अब 60 साल कर दी?

a. तमिलनाडु
b. केरल
c. आंध्र प्रदेश
d. कर्नाटक

Answer: a. तमिलनाडु

– तमिलनाडु के मुख्‍यमंत्री के पलानीस्‍वामी ने राज्य विधान सभा में 25 फरवरी 2021 को इसकी घोषणा की है।
– अब इस राज्‍य के सरकारी कर्मचारी 59 से 60 साल की उम्र में रिटायरमेंट ले पाएंगे।
– इसका लाभ सरकारी कर्मचारियों, अनुदान प्राप्त शिक्षा संस्थानों, सरकारी उपक्रमों व नगरीय व पंचायत निकायों को होगा।
– जो कर्मचारी 31 मई 2021 को सेवानिवृत्त होने वाले थे, उन्हें भी एक वर्ष और सेवा का अवसर मिलेगा।

– सेवानिवृत्ति की उम्र में एक साल वृद्धि करने वाले मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी ने विधानसभा में नियम 110 के तहत इसकी घोषणा की।
– मई 2020 में मुख्यमंत्री ने सरकारी कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति की उम्र 58 साल से बढ़ाकर 59 साल कर दी थी।

———————————
12. उत्‍तर प्रदेश के किस नए एयरपोर्ट को विमानन नियामक महानिदेशालय (DGCA) ने फरवरी 2021 में अंतरराष्ट्रीय उड़ानों (International flights) के संचालन की मंजूरी दी?

a. चौधरी चरण सिंह अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा
b. कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट
c. लाल बहादुर शास्त्री अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा
d. जेवर एयरपोर्ट

Answer: b. कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट

– कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट को 23 फरवरी 2021 को मंजूरी दी गई है।
– यह एयरपोर्ट उत्तर प्रदेश का तीसरा (लखनऊ – Chaudhary Charan Singh International Airport, वाराणसी – Lal Bahadur Shastri International Airport और कुशीनगर – ) व देश का 87वां लाइसेंसी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट बन गया है।
– यहां से अब देशी-विदेशी पर्यटकों के साथ पूर्वांचल सहित पश्चिम बिहार व नेपाल के सीमावर्ती लोगों को आने जाने में सुविधा हो जाएगी।
– केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बताया कि कुशीनगर हवाईअड्डे को डीजीसीए से यूपी का तीसरा लाइसेंस प्राप्त अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा बनने के लिए मंजूरी मिल गई है।

– कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट के निदेशक एके द्विवेदी ने बताया कि फोर सी कैटेगरी में लाइसेंस मिला है।
– यह लाइसेंस रनवे और जहाज की कैटेगरी को लेकर जारी किया गया है, इस एयरपोर्ट से डोमेस्टिक व इंटरनेशनल दोनों उड़ानें होंगी।

DGCA का मुख्यालय- नई दिल्ली

———————————
13. क्रिकेटर यूसुफ पठान ने फरवरी 2021 को क्रिकेट के किस फॉर्मेट से सन्‍यास लेने की घोषणा की?

a. वन डे क्रिकेट
b. टेस्‍ट क्रिकेट
c. टी-20
d. उपरोक्‍त सभी

Answer: d. उपरोक्‍त सभी

– आलराउंडर यूसुफ पठान ने 26 फरवरी 2021 को क्रिकेट के सभी प्रारूप से सन्‍यास लेने की घोषणा सोशल मीडिया के जरिए की है।
– यूसुफ ने भारत के लिए 57 वनडे और 22 टी20 मैच खेले और वह 2007 में आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप में चैंपियन बनी टीम इंडिया का हिस्सा रहे।
– हालांकि वह काफी सालों से टीम इंडिया से बाहर चल रहे थे और आईपीएल में भी किसी फ्रेंचाइजी ने उनको टीम में शामिल करने में रुचि नहीं दिखाई थी।
– यूसुफ ने अपने इंटरनेशनल क्रिकेट करियर की शुरुआत 2007 में पाकिस्तान के खिलाफ खेले टी20 मैच से की थी।
– इसके बाद वर्ष 2008 में पाकिस्तान के खिलाफ ही अपना पहला वनडे मुकाबला भी खेला।
– वह वर्ष 2011 में खेले गए विश्व कप में भी टीम इंडिया का हिस्सा रहे थे।
– बड़ौदा के इस ऑलराउंडर ने वर्ष 2012 के बाद कोई भी इंटरनेशनल मैच नहीं खेला।
– आईपीएल के पहले सीजन में राजस्थान रॉयल्स को चैंपियन बनाने में ऑलराउंडर ने बड़ी भूमिका निभाई थी।

———————————-
14. बॉलर आर विनय कुमार ने क्रिकेट के किस प्रारूप से सन्‍यास लेने की घोषणा फरवरी 2021 को की?

a. वन डे क्रिकेट
b. टेस्‍ट क्रिकेट
c. टी-20
d. उपरोक्‍त सभी

Answer: d. उपरोक्‍त सभी

– कर्नाटक के तेज गेंदबाज आर विनय कुमार ने 26 फरवरी 2021 को सभी तरह की क्रिकेट से संन्यास लेने का फैसला किया है।
– 37 साल के विनय तीनों फॉर्मेट में टीम इंडिया की ओर से खेल चुके हैं।
– उन्होंने अपनी कप्तानी में कर्नाटक को 2013-14 और 2014-15 में लगातार दो बार रणजी ट्रॉफी चैम्पियन भी बनाया था।
– विनय ने लिखा, ‘करियर में सचिन तेंदुलकर, महेंद्र सिंह धोनी और विराट कोहली जैसे दिग्गजों के साथ खेलना मेरे लिए सौभाग्य की बात रही है।
– विनय ने एक मात्र टेस्ट मैच ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2012 में पर्थ में खेला था।
– 2010 में धोनी की कप्तानी में श्रीलंका के खिलाफ टी20 मैच से अपने इंटरनेशनल करियर का डेब्यू किया था।
– उनका वनडे डेब्यू सुरेश रैना की कप्तानी में और टेस्ट डेब्यू धोनी की कप्तानी में हुआ था, जिसमें उन्‍होंने 38, टी20 इंटरनेशनल में 10 और टेस्ट मैच में एक विकेट लिया है।

– विनय कुमार ने 105 IPL मैचों में 28.24 के औसत से 105 विकेट लिए और सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाजों की लिस्ट में 15वें स्थान पर हैं।
– IPL में वे रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु, मुंबई इंडियंस, कोच्चि टस्कर्स केरल और कोलकाता नाइट राइडर्स का हिस्सा रह चुके हैं।
– घरेलू क्रिकेट में उन्होंने 139 फर्स्ट क्लास मैचों में 22.44 की औसत से 504 विकेट लिए।
– उन्होंने 26 बार पारी में पांच विकेट और पांच बार मैच में 10 विकेट लिए हैं। – लिस्ट ए क्रिकेट में विनय ने 225 और सभी टी20 मिलाकर 194 विकेट लिए हैं।

———————————-
15. टेबल टेनिस फेडरेशन ऑफ इंडिया (TTFI) का अध्यक्ष दोबारा किसे चुना गया है?

a. मानिक शाह
b. बलराज सिंह
c. दुष्यंत चौटाला
d. मानिक अरोरा

Answer: c. दुष्यंत चौटाला

– हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला को फिर से टेबल टेनिस फेडरेशन ऑफ इंडिया का अध्यक्ष चुना गया।
– 24 फरवरी 2021 को पंचकुला में हुई TTFI की 84वीं सालाना बैठक में यह चुनाव हुआ, जिसमें चार वर्ष के लिए फेडरेशन की पूरी बॉडी का चुनाव कराया गया।
– डॉ. प्रेम वर्मा को कार्यकारी अध्यक्ष, धनराज चौधरी को सीईओ, एमपी सिंह को सलाहकार, अरुण बनर्जी को सेक्रेटरी जनरल तथा गुरप्रीत सिंह को फेडरेशन का कोषाध्यक्ष चुना गया।
– 32 वर्षीय दुष्यंत चौटाला को जनवरी 2017 पहली बार TTFI का अध्यक्ष चुना गया था, जिससे वे टीटीएफआई के इतिहास में सबसे कम उम्र के अध्यक्ष बने थे।

TTFI का मुख्यालय : नई दिल्ली.

———————————
16. फेडरेशन आफ इंडियन एक्सपोर्ट आर्गनाइजेशंस (FIEO) का नया अध्यक्ष किसे चुना गया है?

a. पवन तिवारी
b. मीतेन रघुवंशी
c. प्रताप सिकरवार
d. ए. शक्तिवेल

Answer: d. ए. शक्तिवेल

– ए. शक्तिवेल तिरूपुर के पॉपीज ग्रुप आफ कंपनीज के संस्थापक और मालिक हैं।
– वह अभी अपेरेल एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल (AEPC) के चेयरमैन भी हैं।
– शक्तिवेल को सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यमों (MSME) के लिये किये गये उनके कार्यों के लिये जाना जाता है।
– उन्होंने तिरूपुर को निर्यात के मामले में दुनिया के नक्शे में पहचान बनाने में अहम भूमिका निभाई है।

कई बैंकों के निदेशक मंडल में रहे
– शक्तिवेल यूको बैंक, आईडीबीआई बैंक और ईसीजीसी के निदेशक मंडल में निदेशक भी रहे हैं।
– उन्हें वर्ष 2009 में भारत सरकार ने ‘पदम् श्री’ से सम्मानित किया।
– उन्हें युवाओं को निर्यात क्षेत्र में काम के लिये प्रेरित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिये कोयम्बटूर के भारतथिअर विश्वविद्यालय से डाक्टर की उपाधि से सम्मानित किया गया।

———————————
17. किस पक्षी को विलुप्‍त होने से बचाने के लिए फरवरी 2021 में बांग्‍लादेश ने दवा किटोप्रोफेन (Ketoprofen) पर प्रतिबंध लगाया?

a. चील
b. गिद्ध
c. तोता
d. कबूतर

Answer: b. गिद्ध

– इस दवा का उपयोग मवेशियों के इलाज के दौरान दर्द निवारक दवा के तौर पर किया जाता है।
– असल में यह दर्द निवारक दवा गिद्धों के लिए विषैली है, इस पक्षी को बचाने के लिए बांग्‍लादेश ने दर्द निवारक दवा पर प्रतिबंध लगा दिया है।
– इससे 10 साल पहले भी बांग्‍लादेश एक और दर्द निवारक दवा पर प्रतिबंध लगा चुका है।
– गिद्ध के लिए विषाक्‍त सभी दवाओं पर प्रतिबंध लगाने वाला बांग्‍लादेश पहला देश बन गया है।

– दुनियाभर में गिद्ध की करीब 16 प्रजातियां पाई जाती हैं।
– बर्डलाइफ ओआरजी की रिपोर्ट के अनुसार 16 प्र‍जातियों में से 11 विलुप्‍तप्राय पक्षियों (Extinct birds) की सूची में शामिल हैं।
– 8 प्रजातियां गंभीर रूप से खतरे में हैं, जबकि 3 के जीवन पर भी संकट छाया है।
– कई देशों में गिद्ध पूरी तरह ही विलुप्‍त हो चुके हैं।

डाइक्‍लोफेनाक
– यूरोप, एशिया और अफ्रीका महाद्वीप में सबसे ज्‍यादा संख्‍या में पाए जाने वाले गिद्धों की संख्‍या पिछले कुछ दशकों में तेजी से घटी है।
– वैज्ञानिकों ने इनकी मौतों और घटती संख्‍या की वजह पशुओं में इस्‍तेमाल होने वाली दर्दनिवारक दवा डाइक्‍लोफेनाक को माना था।
– 10 वर्ष पहले पक्षी विशेषज्ञों ने अपने शोध में पाया था कि इस दवा के इस्‍तेमाल वाले पशुओं का मांस गिद्धों के लिए जानलेवा है।
– भारत सरकार ने वर्ष 2006 में पशु चिकित्सा उद्देश्य के लिए डाइक्लोफेनाक के उपयोग पर प्रतिबंध लगा दिया था।
– डाइक्‍लोफेनाक दवा के इस्‍तेमाल वाले पशुओं का मांस खाने से गिद्धो की किडनी फेल हो रही थी।
– इस खतरनाक दवा को 10 साल पहले विश्‍वस्‍तर पर प्रतिबंधित कर दिया गया था।
– कुछ वर्ष पहले शोध में विशेषज्ञों ने पाया कि दूसरी दर्दनिवारक दवा कीटोप्रोफेन भी गिद्ध पक्षियों के लिए नुकसानदायक है।
– आईएएनएस की रिपोर्ट के अनुसार कीटोप्रोफेन दवा को बांग्‍लादेश ने प्रतिबंधित कर दिया है।
– भारत के तमिलनाडु में इस दवा पर प्रतिबंध है।

भारतीय गिद्ध
– इस गिद्ध का वैज्ञानिक नाम जिप्सस इंडिकस है।
– यह गिद्ध भारत, पाकिस्तान और नेपाल में पाया जाता है, जो मध्य और प्रायद्वीपीय भारत के पहाड़ी क्षेत्रों में प्रजनन करता है।
– गिद्धों की नौ भारतीय प्रजातियों में से तीन की जनसंख्या में 90 प्रतिशत की गिरावट आई है।

————————————–
18. अमेरिकी स्‍पेस एजेंसी नासा ने अपने अंतरिक्ष यान का नाम एसएस कैथरीन जॉनसन रखा, ये कौन हैं?

a. अंतरिक्ष यात्री
b. महिला गणितज्ञ
c. शिक्षक
d. एग्रीकल्‍चर स्‍पेशलिस्‍ट

Answer: b. महिला गणितज्ञ

– कैथरीन जॉनसन एक ब्लैक अमेरिकी महिला थीं और वो उन्हीं के दिए हुए आंकड़े थे जिनके आधार पर 20 फरवरी 1962 को जॉन ग्लेन पृथ्वी की परिक्रमा करने वाले पहले अमेरिकी अंतरिक्षविज्ञानी बने।
– अब उसी उड़ान की 59वीं वर्षगांठ पर नासा ने कैथरीन के नाम पर एसएस कैथरीन जॉनसन नाम का एक यान आईएसएस पर भेजा जो 22 फरवरी को वहां पहुंचा।
– कैथरीन की उपलब्धियों पर “हिडेन फिगर्स” नाम की एक फिल्म भी बनी है।
– जिस कैप्सूल को उनका नाम दिया गया है उसे अमेरिकी कंपनी नॉर्थरॉप ग्रुम्मान ने बनाया है।

– अमेरिकी राज्य वर्जीनिया के पूर्वी तट से कैप्सूल की उड़ान के मौके पर कंपनी के वाइस प्रेसिडेंट फ्रैंक डेमॉरो ने कहा, “मिसेज जॉनसन को उनके हाथ से लिखे हुए गणित के फॉर्मूलों के लिए चुना गया जिनकी मदद से अमेरिका के अंतरिक्ष मिशन ने पहली सीढ़ियां चढ़ी।
– जॉनसन का वर्ष 2020 में 101 साल की उम्र में निधन हो गया था।

नासा का मुख्यालय: वाशिंगटन डी.सी. (संयुक्त राज्य अमेरिका)


 

Free Download Notes PDF of Toady’s Current Affairs : – Click Here

आप यूट्यूब चैनल सरकारी जॉब न्‍यूज पर भी करेंट अफेयर्स के वीडियो को देख सकते हैं।

 

Buy eBooks & PDF

About Us | Help Desk | Privacy Policy | Disclaimer | Terms and Conditions | Contact Us

©2022 Sarkari Job News powered by Alert Info Media Pvt Ltd.

Log in with your credentials

or    

Forgot your details?

Create Account