Padma Awards 2021, Daily Current Affairs, Current Affairs 26 January 2021, Current Affair 26 January 2021 Question, Sarkari Job News

यह 23 to 26 January 202a का करेंट अफेयर्स है, जो आपके कांपटीटिव एग्‍जाम्‍स में मदद करेगा। इसका PDF Download Link इस पेज के लास्‍ट में मौजूद है। Current Affairs PDF आप इस पेज के आखिरी हिस्‍से से Free में डाउनलोड करें।

1. केंद्र सरकार ने वर्ष 2021 में कुल कितने लोगों को पद्म अवार्ड देने की घोषणा की?

a. 119
b. 114
c. 121
d. 141

Answer: a. 119

– केंद्र सरकार ने 72वें गणतंत्र दिवस 2021 की पूर्व संध्‍या पर पद्म पुरस्‍कार विजेताओं के नामों की घोषणा की।
– कुल 119 पद्म पुरस्‍कार की घोषणा हुई।
– यह पुरस्‍कार हर साल गणतंत्र दिवस के अवसर पर घोषित किए जाते हैं।
– अवार्ड समारोह हर साल मार्च या अप्रैल में राष्‍ट्रपति भवन में आयोजित किया जाता है। राष्‍ट्रपति अवार्ड देते हैं।

कितने तरह के पद्म अवार्ड?
– पद्म विभूषण
– पद्म भूषण
– पद्म श्री

– पद्म अवार्ड पाने वालों में 29 महिलाएं हैं। – विदेशियों/NRI/PIO/OCI की श्रेणी में 10 लोग हैं।
– 16 लोगों को मरणोपरांत अवार्ड की घोषणा हुई।
– एक ट्रांसजेंडर को भी अवार्ड के लिए चुना गया।

———————————
2. केंद्र सरकार ने वर्ष 2021 में कितने लोगों को पद्म विभूषण अवार्ड दिए जाने की घोषणा की?

a. 5
b. 6
c. 7
d. 8

Answer: c. 7

पद्म विभूषण सम्मान:
– यह भारत सरकार द्वारा दिया जाने वाला भारत रत्‍न के बाद दूसरा सर्वोच्‍च नागरिक सम्मान है.
– इस सम्मान की स्थापना 02 जनवरी 1954 में की गयी थी.
– ‘पद्म विभूषण’ असाधारण और विशिष्ट सेवा (असैनिक) के लिए दिया जाता है।

——————————–
3. केंद्र सरकार ने पद्म विभूषण पुरस्‍कार 2021 के लिए किन्‍हें चुना?

Answer:

शिंजो आबे
– (जापान के पूर्व प्रधानमंत्री) को सार्वजनिक मामले (Public Affairs) के क्षेत्र में.

एसपी बालासुब्रमण्यम
– दिवंगत संगीतकार और गायक को कला के क्षेत्र में यह अवार्ड मिला।
– वह तमिलनाडु से हैं।
– उन्‍हें वर्ष 2001 में पद्मश्री और वर्ष 2011 में पद्म भूषण अवार्ड मिल चुका है।

डॉ. बेले मोनप्पा हेगड़े
– उन्‍हें चिकित्‍सा (Medicine) के क्षेत्र में अवार्ड मिला।
– वह कर्नाटक से हैं।
– वह मशहूर कार्डियोलॉजिस्‍ट ( हृदय रोग विशेषज्ञ) हैं।
– मणिपाल यूनिवर्सिटी पूर्व वाइस-चांसलर भी रह चुके हैं।

नरिंदर सिंह कपानी
– उन्‍हें मरणोपरांत साइंस और इंजीनियरिंग के क्षेत्र में अवार्ड की घोषाणा हुई।
– वह भारतीय मूल के अमेरिकी भौतिक विज्ञानी (physicist) थे। वह फाइबर ऑप्टिक्स में अपने काम के लिए जाने जाते हैं।
– उन्‍हें ‘father of fibre optics’ कहा जाता है।
– फाइबर ऑप्टिक्स शब्द 1956 में कपानी ने ही ईजाद किया था।
– उनका निधन 4 दिसंबर 2020 को हो गया था।

मौलाना वहीदुद्दीन खान
– उन्‍हें आध्यात्मिकता (Spiritualism) के क्षेत्र में अवार्ड मिला।
– वह दिल्‍ली से हैं। इस्‍लामिक विद्वान हैं।
– उन्‍हें वर्ष 2000 में पद्म भूषण अवार्ड मिल चुका है।
– उन्‍होंने कुरान को सरल और समकालीन अंग्रेजी में अनुवाद किया है और कुरान पर एक टिप्पणी भी लिखा है।

बीबी लाल
– उन्‍हें पुरातत्‍व (Archaeology) के क्षेत्र में अवार्ड दिया गया।
– वह दिल्‍ली से हैं और 99 वर्ष के हैं।
– बीबी लाल, भारतीय पुरातत्‍व सर्वेक्षण (ASI) के महानिदेशक रह चुके हैं।
– उन्‍होंने अयोध्‍या में 1976-77 में खुदाई का नेतृत्‍व किया था। उस वक्‍त दावा किया गया था कि बाबरी मस्जिद के नीचे मंदिर के अवशेष मिले हैं। उनकी टीम में आर्केलॉजिस्‍ट केके मुहम्‍मद भी थे, जिन्‍होंने इस दावे पर मुहर लगाई थी।

सुदर्शन साहू
– उन्‍हें कला के क्षेत्र में पद्म विभूषण मिला।
– वह ओडिशा के चर्चित मूर्तिकार हैं।
– उनकी बनाई कलाकृतियों की चर्चा दुनियाभर में होती है।

————————————-
4. केंद्र सरकार ने कितने लोगों को पद्म भूषण अवार्ड (वर्ष 2021) की घोषणा की?

a. 7
b. 10
c. 15
d. 16

Answer: b. 10

– यह सम्मान भारत सरकार द्वारा दिया जाने वाला तीसरा सर्वोच्च नागरिक सम्मान है।
– पद्म भूषण’ उच्च क्रम की विशिष्ट सेवा के लिए दिया जाता है।

————————————-
5. केंद्र सरकार ने पद्म भूषण पुरस्‍कार 2021 के लिए किन्‍हें चुना?

Answer:

नाम क्षेत्र राज्‍य
1 एमएस. कृष्णन नायर शांताकुमारी चित्र कला केरल
2 तरुण गोगोई (मरणोपरांत) सार्वजनिक मामलों असम
3 चंद्रशेखर कंबरा साहित्य और शिक्षा कर्नाटक
4 सुमित्रा महाजन सार्वजनिक मामलों Madhya Pradesh
5 नृपेंद्र मिश्र सिविल सेवा Uttar Pradesh
6 राम विलास पासवान (मरणोपरांत) सार्वजनिक मामलों बिहार
7 केशुभाई पटेल (मरणोपरांत) सार्वजनिक मामलों गुजरात
8 कल्बे सादिक (मरणोपरांत) अध्यात्मवाद Uttar Pradesh
9 रजनीकांत देवीदास श्रॉफ व्यापार और उद्योग महाराष्ट्र
10 तरलोचन सिंह सार्वजनिक मामलों हरियाणा

1. कृष्णन नायर शांतकुमारी चित्रा को कला के क्षेत्र में, वह केरल से हैं।
2. तरुण गोगोई (मरणोपरांत) को सार्वजनिक मामले (Public Affairs) के क्षेत्र में, वह असम के पूर्व मुख्‍यमंत्री थे।
3. चंद्रशेखर कंबरा को साहित्‍य और शिक्षा (Literature and Education) के क्षेत्र में, वह कर्नाटक से हैं।
4. सुमित्रा महाजन को सार्वजनिक मामलों (Public Affairs) के क्षेत्र में। वह लोकसभा की पूर्व अध्‍यक्ष हैं। मध्‍य प्रदेश की रहने वाली हैं।
5. नृपेन्द्र मिश्रा को सिविल सर्विस के क्षेत्र में, वह उत्‍तर प्रदेश से हैं। वह प्रधानमंत्री के प्रिंसिपल सेक्रेट्री रह चुके हैं।
6. रामविलास पासवान (मरणोपरांत) को सार्वजनिक मामलों (Public Affairs) के क्षेत्र में, वह बिहार से थे। वह कई बार केंद्रीय मंत्री रह चुके थे।
7. केशुभाई पटेल (मरणोपरांत) को सार्वजनिक मामलों (Public Affairs) के क्षेत्र में, वह गुजरात के पूर्व मुख्‍यमंत्री रह चुके हैं।
8. कल्बे सादिक (मरणोपरांत) को अध्यात्मवाद (Spiritualism) के क्षेत्र में, वह उत्‍तर प्रदेश से थे। मुस्लिम विद्वान के रूप में उन्‍हें जाना जाता था।
9. रजनीकांत देवीदास श्रॉफ को व्‍यापार और उद्योग (Trade and Industry) के क्षेत्र में, वह महाराष्‍ट्र से हैं।
10. तरलोचन सिंह को सार्वजनिक मामलों (Public Affairs) के क्षेत्र में, वह हरियाणा से हैं। वहा राज्‍यसभा सांसद हैं।

——————————
6. केंद्र सरकार ने कितने पद्म श्री अवार्ड (वर्ष 2021) की घोषणा की?

a. 16
b. 102
c. 118
d. 180

Answer: b. 102

——————————
7. केंद्र सरकार ने पद्म श्री पुरस्‍कार (वर्ष 2021) के लिए किन्‍हें चुना?

Answer: 

  नाम क्षेत्र राज्‍य / देश
1 गुलफाम अहमद कला उत्तर प्रदेश
2 सुश्री पी. अनीथ खेल तमिलनाडु
3 राम स्वामी अन्नवरपु कला आंध्र प्रदेश
4 सुब्बु अरुमुगम कला तमिलनाडु
5 प्रकासराव असावदी साहित्य और शिक्षा आंध्र प्रदेश
6 सुश्री भूरी बाई कला मध्य प्रदेश
7 राधे श्याम बारले कला छत्तीसगढ
8 धर्म नारायण बरम साहित्य और शिक्षा पश्चिम बंगाल
9 सुश्री लखिमी बरुआ सामाजिक कार्य असम
10 बिरेन कुमार बसाक कला पश्चिम बंगाल
11 सुश्री रजनी बेक्टर व्यापार और उद्योग पंजाब
12 पीटर ब्रूक कला यूनाइटेड किंगडम
13 सुश्री संखुमी बुलेछुआक सामाजिक कार्य मिजोरम
14 गोपीराम बड़गायण बुरभक्त कला असम
15 सुश्री बिजय चक्रवर्ती सार्वजनिक मामलो असम
16 सुजीत चट्टोपाध्याय़ साहित्य और शिक्षा पश्चिम बंगाल
17 जगदीश चौधरी (मरणोपरांत) सामाजिक कार्य उत्तर प्रदेश
18 त्सुत्रिम चोंजोर सामाजिक कार्य लद्दाख
19 सुश्री मौमा दास खेल पश्चिम बंगाल
20 श्रीकांत दातार साहित्य और शिक्षा USA
21 नारायण देबनाथ कला पश्चिम बंगाल
22 सुश्री चुटनी देवी सामाजिक कार्य झारखंड
23 सुश्री दुलारी देवी कला बिहार
24 सुश्री राधे देवी कला मणिपुर
25 सुश्री शांति देवी सामाजिक कार्य ओडिशा
26 वायन दिबिया कला इंडोनेशिया
27 दादूदान गढ़वी साहित्य और शिक्षा गुजरात
28 परशुराम आत्माराम गंगावने कला महाराष्ट्र
29 जय भगवान गोयल साहित्य और शिक्षा हरियाणा
30 जगदीश चंद्र हलदर साहित्य और शिक्षा पश्चिम बंगाल
31 मंगल सिंह हज़ारी साहित्य और शिक्षा असम
32 सुश्री अंशु जामसेनपा खेल अरुणाचल प्रदेश
33 सुश्री पूर्णमासी जानी कला ओडिशा
34 माथा बी. मंजम्मा जोगती कला कर्नाटक
35 दामोदरन कैथप्रम कला केरल
36 नामदेव सी कांबले साहित्य और शिक्षा महाराष्ट्र
37 महेशभाई और श्री नरेशभाई कनोडिया (जोड़ी) *(मरणोपरांत) कला गुजरात
38 रजत कुमार कर साहित्य और शिक्षा ओडिशा
39 रंगासामी लक्ष्मीनारायण कश्यप साहित्य और शिक्षा कर्नाटक
40 सुश्री प्रकाश कौर सामाजिक कार्य पंजाब
41 निकोलस कज़ानास साहित्य और शिक्षा यूनान
42 के केशवसामी कला पुदुचेरी
43 गुलाम रसूल खान कला जम्मू और कश्मीर
44 लखा खान कला राजस्थान
45 सुश्री संजीदा खातून कला बांग्लादेश
46 श्री विनायक विष्णु खेडेकर कला गोवा
47 सुश्री नीरू कुमार सामाजिक कार्य दिल्ली
48 सुश्री लाजवंती कला पंजाब
49 रतन लाल विज्ञान और इंजीनियरिंग USA
50 अली मानिकफ़ान अन्य-ग्रासरूट नवाचार लक्षद्वीप
51 रामचंद्र मांझी कला बिहार
52 दुलाल मानकी कला असम
53 नानदरो बी मारक कृषि मेघालय
54 रेबेन माशंगवा कला मणिपुर
55 चंद्रकांत मेहता साहित्य और शिक्षा गुजरात
56 डॉ. रतन लाल मित्तल चिकित्‍सा पंजाब
57 माधवन नाम्बियार खेल केरल
58 श्याम सुंदर पालीवाल सामाजिक कार्य राजस्थान
59 डॉ. चंद्रकांत संभाजी पांडव चिकित्‍सा दिल्ली
60 डॉ. जेएन पांडे (मरणोपरांत) चिकित्‍सा दिल्ली
61 सोलोमन पाप्पैया साहित्य और शिक्षा- पत्रकारिता तमिलनाडु
62 सुश्री पप्पम्मल अन्य- कृषि तमिलनाडु
63 डॉ. कृष्ण मोहन पाथी चिकित्‍सा ओडिशा
64 सुश्री जसवंतिबेन जमनादास पोपट व्यापार और उद्योग महाराष्ट्र
65 गिरीश प्रभु सामाजिक कार्य महाराष्ट्र
66 नंदा प्रस्टी साहित्य और शिक्षा ओडिशा
67 केके रामचंद्र पुलवर कला केरल
68 बालन पुत्री साहित्य और शिक्षा केरल
69 सुश्री बीरूबाला राभा सामाजिक कार्य असम
70 कनक राजू कला तेलंगाना
71 सुश्री बॉम्बे जयश्री रामनाथ कला तमिलनाडु
72 सत्यराम रीनग कला त्रिपुरा
73 डॉ. धनंजय दिवाकर चिकित्‍सा केरल
74 अशोक कुमार साहू चिकित्‍सा उत्तर प्रदेश
75 डॉ. भूपेंद्र कुमार सिंह संजय चिकित्‍सा उत्तराखंड
76 सुश्री सिंधुताई सपकाल सामाजिक कार्य महाराष्ट्र
77 चमन लाल सप्रू (मरणोपरांत) साहित्य और शिक्षा जम्मू और कश्मीर
78 रोमन सरमाह साहित्य और शिक्षा- पत्रकारिता असम
79 इमरान शाह साहित्य और शिक्षा असम
80 प्रेम चंद शर्मा अन्य- कृषि उत्तराखंड
81 अर्जुन सिंह शेखावत साहित्य और शिक्षा राजस्थान
82 राम यज्ञ शुक्ल साहित्य और शिक्षा उत्तर प्रदेश
83 जितेन्द्र सिंह शंटी सामाजिक कार्य दिल्ली
84 करतार पारस राम सिंह कला हिमाचल प्रदेश
85 करतार सिंह कला पंजाब
86 डॉ. दिलीप कुमार सिंह चिकित्‍सा बिहार
87 चन्द्र शेखर सिंह अन्य-कृषि उत्तर प्रदेश
88 सुश्री सुधा हरि नारायण सिंह खेल उत्तर प्रदेश
89 वीरेंद्र सिंह खेल हरियाणा
90 सुश्री मृदुला सिन्हा (मरणोपरांत) साहित्य और शिक्षा बिहार
91 केसी शिवशंकर (मरणोपरांत) कला तमिलनाडु
92 गुरु माँ कमली सोरेन सामाजिक कार्य पश्चिम बंगाल
93 मराची सुब्बरमन सामाजिक कार्य तमिलनाडु
94 पी सुब्रमण्यन (मरणोपरांत) व्यापार और उद्योग तमिलनाडु
95 सुश्री निदुमोलु सुमति कला आंध्र प्रदेश
96 कपिल तिवारी साहित्य और शिक्षा मध्य प्रदेश
97 पिता वल्लेस (मरणोपरांत) साहित्य और शिक्षा स्पेन
98 डॉ. थिरुवेंगडम वीराराघवन (मरणोपरांत) चिकित्‍सा तमिलनाडु
99 श्रीधर वेम्बू व्यापार और उद्योग तमिलनाडु
100 केवाई वेंकटेश खेल कर्नाटक
101 सुश्री उषा यादव साहित्य और शिक्षा उत्तर प्रदेश
102 कर्नल क़ाज़ी सज्जाद अली ज़हीर सार्वजनिक मामलों बांग्लादेश

– यह सम्‍मान किसी क्षेत्र में विशिष्ट सेवा के लिए प्रदान किए जाते हैं। यह पुरस्कार हर साल गणतंत्र दिवस के अवसर पर घोषित किए जाते हैं।
– अवार्ड समारोह हर साल मार्च या अप्रैल में राष्‍ट्रपति भवन में आयोजित किया जाता है। राष्‍ट्रपति अवार्ड देते हैं।
– अवार्ड पाने वालों में 29 महिलाएं हैं। विदेशियों/NRI/PIO/OCI की श्रेणी में 10 लोग हैं।
– 16 लोगों को मरणोपरांत अवार्ड की घोषणा हुई।
– एक ट्रांसजेंडर को भी अवार्ड के लिए चुना गया।

——————————–
8. सुभाष चन्द्र बोस आपदा प्रबंधन पुरस्कार, 2021 (व्‍यक्तिगत श्रेणी) किसने जीता?

a. उम्‍मेद सिंह रावत
b. कुमार मुन्नन सिंह
c. राकेश रौशन
d. राजेंद्र कुमार भंडारी

Answer: d. राजेंद्र कुमार भंडारी

– इस पुरस्कार के विजेताओं की घोषणा 23 जनवरी को नेताजी सुभाष चन्द्र बोस के जन्म दिवस के अवसर पर की गयी।
– उन्‍होंने आपदा प्रबंधन के क्षेत्र में उनके काम के लिए सुभाष चंद्र बोस आपदा प्रबंधन पुरस्कार के लिए चुना गया है.
– गृह मंत्रालय ने इस अवार्ड की घोषणा की।
– व्यक्तिगत श्रेणी में पांच लाख रुपये और एक प्रमाण पत्र दिये जाते हैं.

——————————–
9. सुभाष चन्द्र बोस आपदा प्रबंधन पुरस्कार, 2021 (संस्‍थागत श्रेणी) कौन जीता?

a. एनडीआरएफ
b. इंडियन कोस्‍ट गार्ड
c. सीआरपीएफ
d. सतत पर्यावरण एवं पारिस्थितिकी विकास सोसायटी (सीड्स)

Answer: d. सतत पर्यावरण एवं पारिस्थितिकी विकास सोसायटी (सीड्स)

– संस्थागत श्रेणी में मिलने वाले पुरस्कार में 51 लाख रुपये नकद और एक प्रमाण पत्र मिलता है।

——————————–
10. आयुष मंत्रालय का अतिरिक्‍त प्रभार किस मंत्री को मिला?

a. स्‍मृति ईरानी
b. प्रकाश जावड़ेकर
c. राजनाथ सिंह
d. किरण रिजीजू

Answer: d. किरेन रिजिजू

– यह जानकारी राष्ट्रपति भवन ने 19 जनवरी 2021 को दी।
– पहले इस मंत्रालय के राज्‍यमंत्री (स्‍वतंत्र प्रभार) श्रीपद यसो नाइक थे।
– वह 12 जनवरी को कर्नाटक से गोवा जाते वक्‍त एक सड़क हादसे में घायल हो गए थे। उनका इलाज चल रहा है।
– राष्ट्रपति ने प्रधानमंत्री की सलाह पर निर्देश दिया है कि येसो नाइक के भर्ती रहने तक मंत्रालय का प्रभार किरन रिजिजू को दिया जाए।
– आयुष मंत्रालय के अंतर्गत आयुर्वेद, योग और प्राकृतिक चिकित्सा, यूनानी, सिद्ध और होम्योपैथी आते हैं।

——————————–
11. पूर्व केंद्रीय मंत्री और उद्योगपति कमल मोरारका का निधन 15 जनवरी 2021 को हो गया, वह किस प्रधानमंत्री के कार्यकाल में मंत्री रहे थे?

a. चंद्रशेखर
b. अटल बिहारी वाजपेई
c. मनमोहन सिंह
d. मोरारजी देसाई

Answer: a. चंद्रशेखर

– कमल मोरारका का जन्म 18 जून 1946 को हुआ।
– वह 2012 से समाजवादी जनता पार्टी (राष्ट्रीय) के प्रमुख थे।
– वह 1990-91 में चंद्रशेखर सरकार में केंद्रीय राज्‍य मंत्री रहे।
– साथ ही 1988-1994 तक जेडीएस से राज्यसभा सदस्य भी रहे।
– उनकी खेल में गहरी रुचि थी, वह लंबे समय तक BCCI और राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन के उपाध्यक्ष रहे।

– वह मोरारका आर्गेनिक के चेयरमैन थे, उन्होंने अपने गृह नगर शेखावाटी में जैविक खेती को बढ़ावा देने में भी महत्वपूर्ण योगदान दिया था।
– संसद में दिए गए उनके भाषणों का एक संग्रह भी है।
– जिसमें बोफोर्स घोटाला, बाबरी मस्जिद विधवंस, हर्षद मेहता घोटाला का जिक्र शामिल हैं।

———————————–
12. किस देश के प्रधानमंत्री मार्क रुटे समेत पूरे मंत्रिमंडल ने घोटाले के आरोपों के चलते 15 जनवरी 2021 को इस्‍तीफा दे दिया है?

a. ऑस्ट्रेलिया
b. न्‍यूजीलैंड
c. नीदरलैंड
d. हंगरी

Answer: c. नीदरलैंड

– बाल कल्याण योजना घोटाले को लेकर चल रहे विवाद के बीच नीदरलैंड सरकार ने इस्‍तीफा दे दिया है।
– इस घोटाले में हजारों परिवारों पर गलत तरीके से बाल देखभाल भत्ते पर धोखाधड़ी का आरोप लगाया गया था।
– प्रधानमंत्री ने बाल देखभाल भत्ते पर संसदीय पूछताछ समिति की एक रिपोर्ट के बाद मंत्रिमंडल के इस्तीफे की घोषणा।
– उनका कहना है कि इसके लिए पूरी कैबिनेट जिम्‍मेदार है।
– हालांकि, रूटे सरकार मार्च 2021 में संसदीय चुनावों तक एक कार्यवाहक भूमिका में रहेगी।

– 17 दिसंबर 2020 को, बाल देखभाल भत्ते पर पर संसद की एक रिपोर्ट सामने आई, जिसमें यह स्पष्ट हो गया था कि अनुमानित 30,000 माता-पिताओं पर झूठा आरोप लगया गया।
– रिपोर्ट में निष्कर्ष निकाला गया कि सरकार ने सभी स्तरों पर इन माता-पिताओं के कानूनी संरक्षण का उल्लंघन किया है।
– पीड़ितों को आर्थिक मुआवजा दिया जाएगा।

नीदरलैंड की राजधानी- एम्स्टर्डम
मुद्रा- यूरो

——————————–
13. प्रसिद्ध कैंसर विशेषज्ञ डॉ. वी शांता का निधन 19 जनवरी 2021 को हो गया, उन्‍हें कौन सा सम्‍मान मिला था?

a. पद्म श्री
b. पद्म भूषण
c. पद्म विभूषण
d. उपरोक्‍त सभी

Answer: d. उपरोक्‍त सभी

– 93 वर्ष की डॉ. वी शांता कैंसर के मरीजों के उपचार में अतुलनीय योगदान के लिए जानी जाती हैं।
– प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत कई गणमान्य हस्तियों ने उनके निधन पर शोक जताया।

– डॉ. शांता ने डॉ. मुथुलक्ष्मी रेड्डी के बेटे डॉ. एस कृष्णमूर्ति के साथ मिलकर कैंसर संस्थान को 12 बिस्तर वाले एक छोटे से अस्पताल से राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर के बड़े कैंसर केंद्र में बदलने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।
– चेन्नई स्थित अडयार कैंसर संस्थान गरीबों को कैंसर का उपचार मुहैया कराने के लिए जाना जाता है।
– वह मार्च 2005 तक कैंसर संबंधी WHO सलाहकार समिति में थीं।

कब मिला सम्‍मान?
– वर्ष 1986 में पद्म श्री
– वर्ष 2006 में पद्म भूषण
– वर्ष 2016 में पद्म विभूषण
– उन्‍हें रेमन मैग्सेसे पुरस्कार से भी उन्हें सम्मानित किया जा चुका है।

———————————-
14. RBL बैंक के प्रबंध निदेशक (MD) और मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी (CEO) के रूप में किसकी पुन: नियुक्ति को मंजूरी दी गई है?

a. प्रशांत कुमार
b. विश्ववीर आहूजा
c. शशिधरन जगदीशन
d. रोहित जैन

Answer: b. विश्ववीर आहूजा

– RBL बैंक के निदेशक मंडल ने विश्ववीर आहूजा को तीन साल के लिए बैंक के MD और CEO के रूप में पुन: नियुक्ति को मंजूरी दी है।
– बैंक ने एक नियामक फाइलिंग में कहा कि पुन: नियुक्ति 30 जून, 2021 से 29 जून, 2024 तक प्रभावी है।
– वह 30 जून 2010 से RBL बैंक के एमडी और सीईओ हैं।
– विश्ववीर आहूजा RBL बैंक में शामिल होने से पहले, 2001 से 2009 तक बैंक ऑफ अमेरिका, भारत के एमडी और सीईओ थे।
– नियामकीय फाइलिंग के अनुसार, आहूजा के नेतृत्व में बैंक का जमा 40 गुना बढ़ा हैं, जबकि 2011 से 45 बार अग्रिमों (Advances) में वृद्धि हुई है।

आरबीएल बैंक लिमिटेड का मुख्यालय- मुंबई, महाराष्ट्र.
टैगलाइन- अपनो का बैंक।

———————————
15. पुस्‍तक ‘मनोहर पार्रिकर-ऑफ द रिकॉर्ड’ को किसने लांच (विमोचन) किया?

a. नितिन गडकरी
b. देवेंद्र फडणवीस
c. लक्ष्मीकांत पारसेकर
d. प्रमोद सावंत

Answer: d. प्रमोद सावंत

– गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने इस बुक को लांच किया।
– इसके लेखक वरिष्ठ पत्रकार वामन सुभा प्रभु हैं।
– यह पुस्तक यादों का एक संग्रह है जो उन्होंने गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री पार्रिकर की जीवन यात्रा के दौरान जमा किया।
– पुस्तक में लेखक ने मनोहर पर्रिकर के व्यक्तित्व को बयान करने का प्रयास किया है।
– मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने कहा कि मनोहर पर्रिकर एक दूरदर्शी व्यक्ति थे जिन्होंने गोवा की सेवा करने का सपना देखा था।

————————————-
16. उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री माता प्रसाद का निधन 20 जनवरी 2021 को हो गया, वह किस राज्‍य के राज्‍यपाल भी रह चुके थे?

a. उत्तर प्रदेश
b. अरुणाचल प्रदेश.
c. पंजाब
d. बिहार

Answer: b. अरुणाचल प्रदेश.

– 96 वर्ष के माता प्रसाद लंबे समय से बीमार चल रहे थे।
– उनका जन्‍म जौनपुर जिले के मछलीशहर तहसील क्षेत्र के कजियाना मोहल्ले में 11 अक्तूबर 1924 को हुआ था।
– प्रदेश के तत्कालीन मुख्यमंत्री नारायण दत्त तिवारी ने इन्हें अपने मंत्रिमंडल में 1988 से 89 तक राजस्व मंत्री बनाया था।
– नरसिंह राव सरकार ने 21 अक्तूबर 1993 को इन्हें अरुणाचल प्रदेश का राज्यपाल बनाया और 31 मई 1999 तक ये राज्यपाल रहे।
– राज्यपाल पद पर रहते हुए माता प्रसाद को तत्कालीन गृह मंत्री लालकृष्ण आडवाणी ने पद छोड़ने को कहा तो उन्होंने दरकिनार कर दिया था।

———————————–
17.   21 जनवरी को किन राज्‍यों का स्‍थापना दिवस मनाया गया?

a. मणिपुर, उत्‍तर प्रदेश और पंजाब
b. मणिपुर, मेघालय और त्रिपुरा
c. मेघालय, अरुणाचल प्रदेश और उत्‍तराखंड
d. मणिपुर, मेघालय और उत्‍तराखंड

Answer: b. मणिपुर, मेघालय और त्रिपुरा

– पूर्वोत्तर राज्य मणिपुर, मेघालय और त्रिपुरा को अलग राज्य बने 21 जनवरी 2021 को 49 बरस हो गए हैं।
– पूर्वोत्तर क्षेत्र (पुनर्गठन) अधिनियम 1971 के तहत मणिपुर, मेघालय और त्रिपुरा को 21 जनवरी 1972 को अलग राज्य का दर्जा दिया गया था।

मणिपुर
सीएम – एन बीरेन सिंह
गवर्नर – नजमा हेपतुल्ला

मेघालय
सीएम – कॉनरॉड संगमा
गवर्नर – सत्‍यपाल मलिक

त्रिपुरा
सीएम – बिपलब कुमार देब
गवर्नर – रमेश बैस

——————————–
18. महेंद्र सिंह धोनी का रिकॉर्ड तोड़ते हुए किस बल्‍लेबाज ने सबसे कम 27 पारियों में 1000 रन बनाने का नया रिकॉर्ड बनाया?

a. वाशिंगटन सुंदर
b. चेतेश्‍वर पुजारा
c. महेंद्र सिंह धोनी
d. ऋषभ पंत

Answer: d. ऋषभ पंत

– भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत ने यह आंकड़ा 27वीं पारी में छुआ।
– महेंद्र सिंह धोनी ने 32 टेस्ट पारियों में 1000 रन पूरे किये थे।
– इंग्लैंड के खिलाफ वर्ष 2018 में टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण करने वाले पंत इंग्लैंड और आस्ट्रेलिया में शतक जमाने वाले भारत के अकेले विकेटकीपर बल्लेबाज हैं।
– वह अब तक 16 टेस्ट में 1088 रन बना चुके हैं, जिसमें दो शतक और चार अर्धशतक शामिल हैं।

————————————-
19. हिमाचल प्रदेश के किस शहर में पहला ऑनलाइन युवा रेडियो स्टेशन शुरू किया गया है?

a. शिमला
b. धर्मशाला
c. मनाली
d. चंबा

Answer: a. शिमला

– मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने 20 जनवरी 2021 को हिमाचल प्रदेश का पहला ऑनलाइन युवा रेडियो स्टेशन की शुरूआत की है।
– इसका नाम ”रेडियो हिल्स-यंगिस्तान का दिल” रखा गया है।
– ऑनलाइन रेडियो राज्य की संस्कृति और परंपराओं को बढ़ावा देने के लिए एक लंबा रास्ता तय करेगा।
– साथ ही युवाओं को अपनी प्रतिभा दिखाने का भी मौका मिलेगा।
– ऑनलाइन रेडियो के संस्थापक, दीपिका और सौरभ भी मौजूद रहे।

हिमाचल प्रदेश के के गवर्नर- बंडारू दत्तात्रेय.
राजधानी- शिमला

————————————–
20. ‘मुख्‍यमंत्री बगायत विकास मिशन’ किस राज्‍य में शुरू हुआ?

a. गुजरात
b. राजस्‍थान
c. हिमाचल प्रदेश
d. उत्‍तर प्रदेश

Answer: a. गुजरात

– यह बागवानी मिशन (Horticulture Mission) है, जिसका नाम गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने “बागायत विकास मिशन” रखा है।
– इस मिशन का मुख्य उद्देश्य बागवानी और औषधीय खेती में शामिल किसानों की आय को दोगुना करना है।

मिशन
– इसके तहत, औषधीय और बागवानी फसलों की खेती के लिए गुजरात राज्य सरकार की बेकार पड़ी भूमि को तीस साल के पट्टे पर देगी।
– आवंटन के लिए उपलब्ध बेकार भूमि की एक सूची I-Khedut पोर्टल पर जारी की जाएगी।
– यह मिशन स्प्रिंकलर और ड्रिप सिंचाई का उपयोग करके किसानों को प्राथमिकता देगा।
– इस मिशन का पहला चरण सुरेंद्रनगर, कच्छ, साबरकांठा और पाटन जिलों में लागू किया जायेगा।
– इस मिशन के तहत भूमि रूपांतरण पर कर को माफ किया जायेगा।
– लीज राशि 100 रुपये से 500 रुपये प्रति वर्ष प्रति एकड़ तय की है।
– पट्टे की अवधि समाप्त होने से पहले जमीन वापस कर दिए जाने पर किसानों को कोई मुआवजा नहीं दिया जाएगा।
– गुजरात के मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में एक समिति का गठन होगा, जो भूमि आवंटन पर अंतिम निर्णय लेगी।
– भूमि पर हुई प्रगति का मूल्यांकन पांच वर्षों में किया जायेगा।

गुजरात के राज्‍यपाल- आचार्य देवव्रत
राजधानी- गांधी नगर


Free Download Notes PDF of Toady’s Current Affairs : – Click Here

आप यूट्यूब चैनल सरकारी जॉब न्‍यूज पर भी करेंट अफेयर्स के वीडियो को देख सकते हैं।

 


Buy eBooks & PDF

 

About Us | Help Desk | Privacy Policy | Disclaimer | Terms and Conditions | Contact Us

©2022 Sarkari Job News powered by Alert Info Media Pvt Ltd.

Log in with your credentials

or    

Forgot your details?

Create Account