Daily Current Affairs, Current Affairs 20 June, 20 June 2020 Current Affairs, 20 june Current Affair 2020, 20 June Current Affairs 2020 Question, Daily Current Affairs 2020, 20 June Current Affairs, 20 June Current Affairs Question

यह 20th June 2020 का करेंट अफेयर्स है, जो आपके कांपटीटिव एग्‍जाम्‍स में मदद करेगा। इसका PDF Download Link इस पेज के लास्‍ट में मौजूद है। Current Affairs PDF आप इस पेज के आखिरी हिस्‍से से Free में डाउनलोड करें।

1. उत्‍तर प्रदेश के किस जिले में शिवलिक जंगल से 50 लाख वर्ष पुराना हाथी का जीवाश्‍म मिला है?

a. मेरठ
b. सहारनपुर
c. गाजीपुर
d. वाराणसी

Answer b. सहारनपुर

– यह जीवाश्‍म शिवालिक (Shiwalik) के जंगल में एक नया बाघ अभ्यारण्य (Tiger Reserve) बनाने के लिए कैमरा-ट्रैप स्टडी के दौरान मिला।
– वाडिया इंस्टीट्यूट ऑफ हिमालयन जियोलॉजी देहरादून के वैज्ञानिकों ने इसे 50 लाख साल पुराना माना है।
– जो जीवाश्म मिला है, वह हाथी का जबड़ा है। दाईं ओर के जबड़े का जीवाश्‍म है।
– वैज्ञानिक भाषा में इसे स्टेगोडॉन कहते हैं, जो वर्तमान में विलुप्त हो चुके हैं।
– उत्तर भारत में हाथी के पूर्वज का इतना पुराना जीवाश्म शायद ही कहीं मिला होगा।

———————————–
2. भारत को संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) की अध्‍यक्षता कब मिलेगी?

a. जनवरी 2021
b. मार्च 2021
c. अगस्त 2021
d. सितंबर 2021

Answer c. अगस्त 2021

– UNSC में भारत दो साल (2021-22) के लिए अस्‍थाई सदस्‍य चुना गया है। यह कार्यकाल एक जनवरी से शुरू होगा।
– प्रत्येक सदस्य देश बारी-बारी से एक माह के लिए परिषद की अध्यक्षता करता है.
– संयुक्त राष्ट्र प्रवक्ता के कार्यालय से जारी सूचना के मुताबिक भारत अगस्त 2021 में परिषद की अध्यक्षता करेगा.
– इसके बाद भारत 2022 में एक माह के लिए परिषद का अध्यक्ष बनेगा.

UNSC में अध्यक्ष के रूप में देश
– जनवरी 2021 में ट्यूनीशिया संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का अध्यक्ष बनेगा.
– इसके बाद ब्रिटेन, अमेरिका, वियतनाम, चीन, एस्तोनिया, फ्रांस, भारत, आयरलैंड, केन्या, मेक्सिको और नाइजर एक-एक महीने के लिए अध्यक्ष बनेंगे.

————————————–
3. 75th UN General Assembly के अध्‍यक्ष कौन चुने गए?

a. एस जयशंकर
b. वोल्‍कन बोजकिर
c. राकेश मारिया
d. ब्‍लादिमीर जरीन

Answer b. वोल्‍कन बोजकिर

– वह तुर्की के डिप्‍लोमैट (कूटनीतिज्ञ) हैं।
– यह चयन बुधवार को गुप्त मतदान के जरिए हुआ, जिसमें वहां उपस्थित सदस्यों ने निर्विरोध चल रहे बोजकिर को 178 मतों से जीत दिलाई.
– वह सितंबर में वार्षिक सत्र के शुरू होने के समय महासभा के निर्वतमान अध्यक्ष तिजानी मुहम्मद-बंदे की जगह लेंगे.
– UN जनरल एसेंबली का कार्यकाल एक साल के लिए होता है.

————————————-
4. RIC (Russia, India, China) ग्रुप की मंत्री स्‍तरीय मीटिंग में भारत की ओर से 23 जून को कौन हिस्‍सा लेगा?

a. राजनाथ सिंह
b. एस जयशंकर
c. निर्मला सीतारमण
d. रविशंकर प्रसाद

Answer b. एस जयशंकर

क्‍या है RIC ग्रुप
– Russia, India, China का एक ग्रुप है।
– इसकी शुरुआत 2002 में हुई थी।
– यह बस एक फोरम है बातचीत करने के लिए फॉरेन पॉलिसी आयडिया शेयर करने के लिए।
– इसकी समिट भी होती है।
– कब – जब भी G20 (ग्रुप ऑफ 20 कंट्री) की मीटिंग होती है, तो उसी के साथ RIC की भी समिट हो जाती है।
– रसियन प्रेसिडेंट, चाइनीज प्रेसिडेंट और इंडियन प्रेसिडेंट मिलते हैं, बातचीत करते हैं।
– इसके गठन में बड़ी भूमिका रूस की थी। रूस यह सोचता है कि इंडिया, चाइना और रसिया मिलकर एक मजबूत पावर बन जाए।


– लेकिन इंडिया क्‍वाड (US, ऑस्‍ट्रेलिया, जापान और इंडिया) (द क्वाड्रिलैटरल सिक्युरिटी डायलॉग) ग्रुप में शामिल है। मुख्‍य तौर पर चीन को घेरने के लिए यह ग्रुप है।
– तो क्‍वाड में इंडिया के शामिल होने से रूस कंफर्टेबल नहीं है।
– रूस ने अलग-अलग चैनल से इस बात को उजागर भी किया है।
– रूस के फॉरेन मिनिस्‍टर कह चुके हैं कि कोई भी ब्‍लॉक न बने एशिया पैसे फिक में।

India – China तनाव के बीच RIC की मीटिंग क्‍यों?
– सबसे पहले बता दूं कि यह मीटिंग वर्चुअल हो रही है, मतलब तीनों देशों के विदेश मंत्री वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए जुड़ेंगे और बातचीत करेंगे।
– इंडिया-चाइना के बॉर्डर इश्‍यू को लेकर टेंशन हाई लेवल पर चला गया है।
– 20 भारतीय जवान शहीद हो चुके हैं। 78 जवान घायल हैं।
– ऐसे में इंडिया को लेकर माना जा रहा था कि वह इसमें हिस्‍सा नहीं लेगा।
– इंडिया ने एक तरह से मना भी कर दिया था और रसियन न्‍यूज एजेंसी के हवाले से इसकी खबर भी आ गई थी कि यह मीटिंग नहीं हो पाएगी। (News Cliping)

– लेकिन रूस ने इसकी पूरी कोशिश की, कि भारत मीटिंग में हिस्‍सा ले।
– क्‍योंकि आरआईसी का चेयरमैन इस वक्‍त रूस है। अगर उसकी अध्‍यक्षता के दौरान ही RIC की मीटिंग नहीं होती तो माना जाता कि रूस का प्रभाव कम हो गया है।
– रूस ने बैक चैनल से इंडिया से बात की।
– मीडिया में यह भी खबर है कि रूस ने डिप्‍लोमेटिक चैनल से चीन से भी बात की LAC के इश्‍यू पर।

– रूस ने कहा है कि कोई भी बायलेटरल रिलेशन (द्व‍िपक्षीय मुद्दे) पर डिस्‍कशन नहीं होगी।
– तब भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने बैठक में जयशंकर के भाग लेने की पुष्टि की है।
– मीटिंग में कोरोना वायरस महामारी पर और वैश्विक सुरक्षा एवं वित्तीय स्थिरता से संबंधित मुद्दों पर चर्चा होगी।
– सूत्रों ने परंपराओं का हवाला देते हुए कहा कि बैठक में भारत और चीन के बीच सीमा पर बने हुए गतिरोध पर चर्चा की संभावना नहीं है क्योंकि त्रिपक्षीय वार्ता के प्रारूप में सामान्य तौर पर द्विपक्षीय विषयों पर बातचीत नहीं की जाती।

– तो रूस पीछे से इंडिया-चाइना के बीच के टेंशन को कम करने में भूमिका निभा रहा है।
– द हिन्‍दू से रूसी राजनयिक ने कहा है कि रूस केवल रचनात्‍मक भूमिका निभाना पसंद करेगा, क्‍योंकि भारत और चीन दोनों अपने मतभेदों को हल करने में पूरी तरह से सक्षम हैं।
– रूसी प्रेसिडेंट व्‍लादिमीर पुतिन के प्रेस सेक्रेटरी दिमित्री पेसकोव ने कहा है कि वह इंडिया-चाइना बॉर्डर टेंशन पर नजर रखे हुए हैं।

———————————-
5. चीन ने बांग्‍लादेश से होने वाले आयात में कितने प्रतिशत सामनों पर टैरिफ में छूट दे दी है?

a. 50 प्रतिशत
b. 60 प्रतिशत
c. 90 प्रतिशत
d. 97 प्रतिशत

Answer d. 97 प्रतिशत

– चीन ने पहले नेपाल को भारत के खिलाफ किया। और अब बांग्‍लादेश से संबंध बेहतर कर रहा है।
– 15 जून की रात को गालवान वैली में भारत-चीन के सैनिकों के बीच खूनी झड़प हुई थी।
– इसके अगले ही दिन 16 जून को चीन ने बांग्‍लादेश से डील कर ली।
– कहा गया है कि 5,161 सामान जिनका चीन और बांग्लादेश व्यापार करते हैं उसमें 97 फीसदी तक टैरिफ पर छूट दी जाएगी।

– मीडिया रिपोर्ट के अनुसार बांग्लादेश ने खुद कहा था कि वह कम विकसित देश है इसलिए उसे कुछ रियायत मिलनी चाहिए।
– भारत से बिगड़ते रिश्तों के बीच चीन 16 जून को इसपर राजी हो गया है।
– फिलहाल एशिया पसेफिक ट्रेड अग्रीमेंट के तहत दोनों देशों के बीच 3,095 सामनों पर ट्रैरिफ फ्री व्यापार होता है। अब बाकी सामान इसी लिस्ट में जुड़ जाएगा।

भारत के लिए चिंता की बात?
– भारत के लिए यह बात थोड़ी चिंताजनक तो है, क्योंकि अबतक बांग्लादेश भारत के ज्यादा करीब रहा है।
– लेकिन दोनों के बीच पिछले दिनों संशोधित नागरिकता कानून और NRC को लेकर मन-मुटाव पैदा हुआ था।
– लद्दाख में विवाद के बीच उधर, नेपाल ने अपने यहां विवादित नक्शे वाला बिल पास किया है।
– इसमें उसने भारत के इलाकों लिपुलेख, कालापानी और लिम्पियाधुरा को अपना बताया है।
– और अब बांग्‍लादेश चीन के करीब जा रहा है।

– द हिन्‍दू की रिपोर्ट के अनुसार इस डील के बाद बांग्‍लादेश के डिप्‍लोमैटिक सोर्स इसे बांग्‍लादेश-चीन संबंधों में चीनी कदम की बड़ी सफलता मान रहे हेा।

—————————
6. प्रधानमंत्री ने सर्वदलीय बैठक की –

प्रधानमंत्री ने क्‍या कहा?
– सर्वदलीय बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि ना कोई हमारे क्षेत्र में घुसा है और ना किसी पोस्ट पर क़ब्ज़ा किया है.
– हमारे 20 जवान शहीद हुए, लेकिन जिन्होंने भारत माता को चुनौती दी थी, उन्हें वे सबक सिखाकर गए हैं। उनके शौर्य को पूरा देश याद रखेगा।
– हमने जहां एक तरफ सेना को अपने स्तर पर उचित कदम उठाने की छूट दी है, वहीं दूसरी तरफ डिप्लोमैटिक जरियों से भी चीन को अपनी बात दो टूक स्पष्ट कर दी है।
– भारत शांति और दोस्ती चाहता है लेकिन वो अपनी संप्रभुता के साथ कोई समझौता नहीं करेगा.
– ‘अभी तक जिनसे कोई सवाल नहीं करता था, जिन्हें कोई नहीं रोकता था, नए इन्फ्रास्ट्रक्चर की वजह से अब हमारे जवान उन्हें कई सेक्टर्स में रोक रहे हैं, चेतावनी दे रहे हैं.
– रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, ”कहीं कोई इंटेलिजेंस नाकाम नहीं हुआ.”

बयान पर उठे सवाल?
– अख़बार द हिंदू की डिप्लोमैटिक एडिटर सुहासिनी हैदर ने पूछा है, ”प्रधानमंत्री ये कहना चाहते हैं कि आज जहां चीनी सैनिक हैं वो सारी जगह उनका क्षेत्र है, हमारे सैनिक भारतीय क्षेत्र में मारे गए हैं या चीनी क्षेत्र में और विदेश मंत्रालय ने ये क्यों कहा कि चीन ने भारत की तरफ़ के एलएसी पर गलवान में कुछ निर्माण करने की कोशिश की थी?”

– इंडियन एक्सप्रेस के सुशांत सिंह ने ट्वीट करके पूछा है, ”20 सैनिक मारे गए, 76 घायल हैं, 10 बंदी बनाए गए थे. किसलिए?”

सामरिक मामलों के जानकार ब्रह्म चेल्लाणी ने कहा है कि, ”क्या मोदी का ये बयान इस बात की ओर इशारा देता है कि भारत ने गलवान घाटी में चीन के जबरन यथास्थिति में बदलाव को स्वीकार कर लिया है?”

———————————
7. निम्‍न में से किस राज्‍य द्वारा 18 जून को मास्‍क दिवस (Mask Day) मनाया गया?

a. केरल
b. कर्नाटक
c. ओडीशा
d. झारखंड

Answer b. कर्नाटक

– कर्नाटक सरकार ने यह दिवस कोविड-19 को और मास्क के उपयोग के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए ‘मास्क डे’ मनाया।
– इस दिवस का उद्देश्‍य, मास्क, सैनिटाइटर्स, साबुन से हाथ धोने के बारे में लोगों को जागरूक करना है
– इस दिवस के मौके पर राज्‍य सरकार ने लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग (दो गज की दूरी) के मानदंडों का पालन की अपील की।

कर्नाटक
मुख्यमंत्री: बी.एस. येदियुरप्पा
राज्यपाल: वजुभाई वाला

————————————–
8. विश्व शरणार्थी दिवस (World Refugee Day) कब मनाया जाता है?

a. 20 जून
b. 19 जून
c. 18 जून
d. 17 जून

Answer a. 20 जून

– विश्व शरणार्थी दिवस 2020 का विषय “Every Action Counts”
– संयुक्‍त राष्‍ट्र इस दिवस को 20 जून मनाता है, इस दिवस का उद्देश्‍य दुनिया भर के शरणार्थियों की दुख परेशानियों ग्लोवल तरीके से सामने लाना है।
– इस दिवस को मनाने के लिए 4 दिसंबर 2000 को संयुक्त राष्ट्र परिषद द्वारा एक प्रस्ताव पारित था।
– उसके बाद 20 जून 2001को इस दिवस को मनाने का निर्णय लिया था।

– संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेसे ने कहा है कि वक्‍त दुनिया भर में 7 करोड़ लोग विस्‍थापित और शरणार्थी हैं।

—————————————
9. मशहूर मलयालम लेखक ओर फिल्‍म निर्देशक के.आर. सचिदानंदन का निधन 18 जून 2020 को हो गया, वे किस बिमारी से जूझ रहे थे?

a. कैंसर
b. हृदय रोग
c. ब्रेन ट्यूमर
d. कोविड-19

Answer b. हृदय रोग

– के.आर. सचिदानंदन को 17 जून को दिल का दौरा पड़ा जिसके कारण उनका निधन हो गया।
– ये लगातार 13 सालों से फिल्‍म इंडस्‍ट्री में कार्य कर रहे थे।
– इनकी पहली फिल्‍म अनारकली है, जो सन् 2015 में आई थी।
– ये फिल्‍म इंडस्‍ट्री में आने से पहले केरल उच्च न्यायालय में एक कानूनी सलाहकार थे।

———————————
10. कामाख्या मंदिर में 500 साल में पहली बार बाहरी साधकों के बिना ही अंबुवाची उत्सव मनाया जाएगा, यह मंदिर किस राज्‍य में स्थित है?

a. ओडिशा
b. असम
c. बंगाल
d. अरुणाचल प्रदेश

Answer b. असम

– असम के शक्तिपीठ कामाख्या मंदिर का प्रसिद्ध अंबुवाची मेला 22 से 26 जून को होगा।
– हालांकि कोविड-19 की वजह से मेले में दुनियाभर से तंत्र साधक, नागा साधु, अघोरी, तांत्रिक और शक्ति साधक इस बार नहीं आएंगे।
– अंबुवाची मेला में हर साल यहां 10 लाख से ज्यादा लोग आते हैं।
– गुवाहाटी प्रशासन ने मंदिर के आसपास मौजूद होटलों, धर्मशालाओं और गेस्ट हाउस को भी हिदायत दी है कि कोई बुकिंग ना लें।
– अंबुवाची मेला कामाख्या मंदिर का सबसे बड़ा उत्सव माना जाता है। – यहां देवी की पूजा योनि रूप में होती है, माना जाता है अंबुवाची उत्सव के दौरान माता रजस्वला होती हैं।
– हर साल 22 से 25 जून तक इसके लिए मंदिर बंद रखा जाता है।
– 26 जून को शुद्धिकरण के बाद दर्शन के लिए खोला जाता है।

असम
– राज्यपाल जगदीश मुखी
– मुख्यमंत्री सर्बानन्द सोणोवाल


Free Notes PDF of Toady’s Current Affairs : Download – Click Here

Free One Liner MCQ PDF –  Current Affairs : Download – Click Here

आप यूट्यूब चैनल सरकारी जॉब न्‍यूज पर भी करेंट अफेयर्स के वीडियो को देख सकते हैं।

 


Buy eBooks & PDF

About Us | Help Desk | Privacy Policy | Disclaimer | Terms and Conditions | Contact Us

©2022 Sarkari Job News powered by Alert Info Media Pvt Ltd.

Log in with your credentials

or    

Forgot your details?

Create Account