Daily Current Affairs, Current Affairs 10 May 2020, Current Affairs 10 May, Current Affair 10 May 2020 Question, 10 May 2020 Current Affairs, Current Affairs 10 May 2020

यह 10th May 2020 का करेंट अफेयर्स है, जो आपके कांपटीटिव एग्‍जाम्‍स में मदद करेगा। इसका PDF Download Link इस पेज के लास्‍ट में मौजूद है। Current Affairs PDF आप इस पेज के आखिरी हिस्‍से से Free में डाउनलोड करें।

1. COVID-19 की वजह से आर्थिक संकट को रोकने के लिए केंद्र सरकार ने कितने लाख करोड़ रुपया तक का कर्ज लेने का अनुमान जारी किया है?

a. 12 लाख करोड़
b. 15 लाख करोड़
c. 20 लाख करोड़
d. 50 लाख करोड़

Answer: a. 12 लाख करोड़

– कोरोना के कारण वित्त वर्ष 2020-21 में सरकार पर कर्ज का बोझ काफी बढ़ने वाला है।
– वित्‍त मंत्रालय ने अपने बयान में कहा है कि, ”वित्त वर्ष 2020-21 में मार्केट बारोइंग (सकल बाजार उधारी) 12 लाख करोड़ रुपये पर रहने का अनुमान है।
– जबकि फाइनेंस बजट में इसका लक्ष्य 7.8 लाख करोड़ रुपये रखा गया था।
– इसका मतलब साफ है कि एक्स्ट्रा 4.2 लाख करोड़ रुपये (53 प्रतिशत ज्‍यादा) जो लिए जाएंगे उसे कोरोना से इकॉनमी को बचाने पर खर्च किया जाएगा।

हर सप्ताह 30 हजार करोड़ बारोइंग
– सरकार और रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने मीडिया से कहा है कि कोरोना संकट के कारण मार्केट बारोइंग को बढ़ाना जरूरी हो गया था।
– सरकार ने बारोइंग कैलेंडर को भी रिवाइज किया है।
– इसके लिए सरकार 11 मई से हर हफ्ते 30 हजार करोड़ रुपये का गिल्ट (बॉन्ड) जारी करेगी।
– इसके मुताबिक, सरकार पहली छमाही (सितंबर तक) में 6 लाख करोड़ रुपये जुटाएगी।

पिछले फाइनेंशियल ईयर में कितना कर्ज?
– वित्त वर्ष 2019-20 में बाजार उधारी की सीमा 7.1 लाख करोड़ रुपये पर थी।

कैसे कर्ज या उधार लेगी सरकार?
– यह मार्केट बारोइंग होगा, मतलब मार्केट में सरकार बांड बेचेगी। इससी से रकम जुटाई जाएगी।

– केंद्र सरकार के इस कदम का राजकोषीय घाटा पर उल्लेखनीय प्रभाव देखने को मिलेगा।
– क्‍योंकि वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने एक फरवरी 2020 को केंद्रीय बजट में राजकोषीय घाटा (फिस्‍कल डेफेसिट) 3.5 रखने का लक्ष्‍य रखा था।
– लेकिन ज्‍यादा कर्ज लेने की वजह से इसमें बढ़ोत्‍तरी हो सकती है।
– रेटिंग एजेंसी ‘केयर रेटिंग्‍स’ के मुताबिक अब राजकोषीय घाटा 5.5 प्रतिशत तक जा सकता है।

मार्केट से कर्ज की जरूरत क्‍यों पड़ी?
– पहली बात कि, सरकार अपनी आमदनी और खर्च के अंतर को पूरा करने के लिए बाजार से कर्ज जुटाती है.
– अभी कोरोना वायरस की वजह से अभी लॉकडाउन है और अर्थव्‍यवस्‍था भी रुक सी गई है। इसका असर पूरे फाइनेंशियल ईयर पर पड़ेगा।
– ऐसे में टैक्‍स के रूप में केंद्र सरकार को कमाई नहीं हो रही है।
– पहले सरकार पीएसयू की अपनी हिस्‍सेदारी बेचकर रकम जुटा लेती थी, लेकिन शेयर बाजार में गिरावट की वजह से अब ऐसा करना भी मुश्किल दिख रहा है।
– LIC को इश्‍यू शेयर बाजार में उतारने, इंडियन एयरलाइंस जैसी कई कंपनियों की हिस्‍सेदारी बचेने सहित कई योजनाएं लटक गई हैं।
– कोरोना महामारी में जनता सरकार की ओर देखा रही है, ताकि वेल्‍फेयर स्‍कीम लेकर आए, राहत पैकेज का ऐलान हो। लेकिन इसके लिए सरकार के पास आर्थिक संकट है।
– इसी वजह से सरकार ने इस फाइनेंशियल ईयर में कर्ज लेने का अनुमान 12 लाख करोड़ रुपए तक बढ़ा दिया है।

कोरोना वायरस पर अनिश्चितता
– अभी भी अनसर्टेनिटी है कि कोरोना कब कंट्रोल में आएगा।
– एम्‍स के निदेशक रणदीप गुलेरिया दो दिन पहले कह चुके हैं कि जून-जुलाई में कोरोनो वायरस का पीक दिखाई देगा।
– मतलब तब सबसे ज्‍यादा मरीज होंगे।
– हालांकि सेंट्रल हेल्‍थ मिनिस्‍टर डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि इतना वक्‍त नहीं लगेगा। कोरोना से जल्‍द हम निपट लेंगे।
– लेकिन इस अनसर्टेनिटी को सरकार भी समझ रही है।

कई तरह के बांड
– बांड तो कई तरह के होते हैं। सरकारी बांड, कार्पोरेट बांड, म्‍युनिसिपल बांड, सिक्‍योर बांड, अन्‍सिक्‍योर बांड, कॉलऐबल बांड वगैरह।

क्‍या होता है सरकारी बांड?
– आमतौर पर सरकार इसे अपना राजकोषीय घाटा पूरा करने के लिए जारी करती है।
– इस तरह के बॉन्डों की मैच्योरिटी की अवधि एक से 30 साल की होती है.
– इसकी ब्‍याज दर कम होता है, लेकिन इसे क्रेडिट जोखिम से मुक्‍त माना जाता है।
– सरकार बांड को भुनाने का वादा करती है।
– पहले बड़े निवेशक ही इनमें निवेश कर पाते थे. पर, अब छोटे निवेशकों के लिए भी इनमें निवेश की अनुमति है.

——————————–
2. कैलाश मानसरोवर यात्रा के लिए लिंक रोड (धारचुला से लिपुलेख) किस राज्‍य में स्थित है, जिसका उद्घाटन रक्षा मंत्री ने 8 मई को किया?

a. सिक्किम
b. उत्‍तराखंड
c. अरुणाचल प्रदेश
d. जम्‍मू-कश्‍मीर

Answer: b. उत्‍तराखंड

– डिफेंस मिनिस्‍टर राजनाथ सिंह ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए इसका उद्धाटन किया।
– यह 80 किलोमीटर लम्बी नई सड़क है, जो वास्‍तविक नियंत्रण रेखा (LAC – Line of Actual Control) से तीन किलोमीटर पहले तक है।
– इससे कैलाश मानसरोवर यात्रा आसान होगी।
– अब श्रद्धालु तीन सप्ताह की यात्रा एक ही हफ्ते में पूरी कर सकेंगे।
– सेना के लिए भी इस सड़क का खास महत्व है। चीन सीमा पर सैनिकों की तैनाती और रसद आपूर्ति आसान होगी।
– इसका निर्माण सीमा सड़क संगठन (BRO) किया है।
– हालांकि नेपाल ने इस रोड पर आपत्ति जताई है और कहा है कि इसका कुछ हिस्‍सा नेपाल की सीमा के अंदर से होकर जाता है, जिसे भारत ने कब्‍जा किया हुआ है। आगे डिटेल बताते हैं।

कहां पर है कैलाश मानसरोवर?
– यह तिब्‍बतियन ऑटोनोमस रीजन में है। जो चीन की सीमा में आता है।
– यहां पर कैलाश पर्वत है।
– ऊचाई – 6,638 मीटर (21,778 फीट)
– इसके पास दो इंपॉर्टेंट लेक हैं – मानसरोवर और राक्षसताल।
– यहां से एशियन रिवर का ओरिजिन उद्गम) होता है। जैसे – इंडस, सतलुज, ब्रह्मपुत्र और करनाली (घाघरा)।
– यह चीन में है और इंडिया के लोगों को वीजा लेना पड़ता है।

– कैलाश पर्वत चार वजहों से इंपॉटेंट है – बॉन रिलीजन, बुद्ध रिलीजन और जैनिज्‍म।
– हिन्‍दु धर्म में मान्‍यता है कि यह कैलाश पर्वत भगवान शिव, पार्वती, गणेष से जुड़ा है। भगवान शिव का स्‍थल है यह।

– जबकि बुद्ध धर्म के मानने वाले इसे माउंट मीरू कहते हैं। कहा जाता है कि ब्रह्मांड का यह एनर्जी स्रोत है।
– जापान, चीन, मयांमार और कई देशों से बुद्धिस्‍ट यहां पहुंचते हैं।

इंडिया से कैलाश मानसरोवर पहुंचने के तीन रास्‍ते हैं।
– ये मैप मुझे आईटीबीपी की वेबसाइट से मिला।
– दिल्‍ली से एक रास्‍ता ये वाला है, सीधे उत्‍तराखंड होते हुए आप लिपुलेख पास से होकर चीनी सीमा में दाखिल होकर कैलाश मानसरोवर जा सकते हैं।
– पहले यह दुर्गम रास्‍ता था, अब यहीं पर लिंक रोड बनाया गया है, जिसका उद्धाटन डिफेंस मिनिस्‍टर ने किया।
– दूसरा रास्‍ता है नेपाल के काठमांडु होकर।
– तीसरा रास्‍ता है नथुला पास।
– यह सिक्किम में है।
– यहां से काफी लंबा और दुर्गम रास्‍ता हो जाताा है।

नए रास्‍ते से जाना आसान 
– अब जो उत्‍तराखंड में नया लिंक रोड बना है, उससे आप लिपुलेखा पास या दर्रा के जरिए आसानी से जा सकते हैं।
– आने-जाने में तीन सप्‍ताह लगता था और अब एक ही सप्‍ता लगेगा।
– काफी टाइम सेव होगा।

—————
3. नेपाल ने उत्‍तराखंड में नव-निर्मित किस रोड पर आपत्ति जताई है और कहा कि रोड का कुछ हिस्‍सा उसके क्षेत्र से गुजरता है?

a. नाथुला दर्रा लिंक रोड
b. धारचुला-लिपुलेखा पास लिंक रोड
c. रोहतांग पास लिंक रोड
d. इनमें से कोई नहीं

Answer: b. धारचुला-लिपुलेखा पास लिंक रोड (कैलास मानसरोवर लिंक)

– दरअसल, नेपाल का कहना है कि सुगौली समझौते (1816) के तहत काली नदी के पूर्व का इलाका, लिंपियादुरा, कालापानी और लिपुलेख नेपाल का है।
– उसका कहना है, ‘नेपाल सरकार ने कई बार पहले और हाल में भी कूटनीतिक तरीके से भारत सरकार को उसके नया राजनीतिक नक्शा जारी करने पर बताया था।
– हालांकि नेपाल ने कहा है कि वह ऐतिहासिक समझौतों, दस्तावेजों, तथ्यों और नक्शों की बदौलत इसे सुलझाना चाहता है।
– नेपाल ने इस क्षेत्र को अपना हिस्सा बताते हुए कहा कि भारत यहां कोई गतिविधि ना करे।

भारत ने नेपाल की आपत्ति खारिज की
– अब 9 मई को भारत ने शनिवार को नेपाल की आपत्ति को खारिज करते हुए कहा कि उत्तराखंड में धारचूला को लिपुलेख दर्रे से जोड़ते हुए जो नई सड़क (कैलास मानसरोवर लिंक) बनाई गई है, वह पूरी तरह उसके क्षेत्र में है।
– अब भारत के विदेश मंत्रालय ने दो टूक जवाब देते हुए कहा है कि यह लिपुलेख पिथौरागढ़ का यह हिस्सा पूरी तरह से भारत का हिस्सा है।

————————–
4. हाल ही में किस राज्‍य सरकार ने पान मसाला के 11 ब्रांडो पर एक साल तक प्रतिबंध लगा दिया है?

a. पंजाब सरकार
b. राजस्‍थान सरकार
c. उत्तर प्रदेश सरकार
d. झारखंड सरकार

Answer: d. झारखंड सरकार

– इस आदेश को राज्य में खाद्य सुरक्षा आयुक्त नितिन कुलकर्णी द्वारा पारित किया
– राज्य सरकार ने वर्ष 2019-20 के दौरान परीक्षण और विश्लेषण करने के लिए कई जिलों के विभिन्न ब्रांडों से संबंधित पान मसाला के 41 नमूने एकत्र किए थे।
– इन सभी नमूनों में मैग्नीशियम कार्बोनेट पाया गया।
– यह नमूने खाद्य, सुरक्षा मानक अधिनियम, 2006 के प्रावधानों के तहत एकत्र किए गए थे।
– यह फैसला 2006 की धारा 30 (2) (a) के तहत लिया गया है।
इस धारा में एक साल के लिए खाद्य पदार्थ के बनाने, बेचने तथा बिक्री पर प्रतिबंध लगाने का प्रावधान है।

झारखंड
मुख्यमंत्री: हेमंत सोरेन.
राज्यपाल: द्रोपदी मुर्मू.
राजधानी: रांची
झारखंड का गठन 15 नवंबर 2000 को हुआ था.

—————————-
5. रक्षा मंत्रालय ने 37 एयर फील्ड को आधुनिक बनाने के लिए किस कम्‍पनी के साथ 12,00 करोड़ रुपए का समझौता किया?

a. टाटा पॉवर एसईडी
b. रिलायंस इंडस्ट्रीज
c. जिंदल स्टील
d. भारती इंटरप्राइजेज

Answer: a. टाटा पॉवर

– यह लगभग 1,200 करोड़ रुपये की परियोजना है।
– रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने 1,200 करोड़ रुपये की यह मंजूरी 8 मई 2020 को दी है।
– इस योजना का सीधा फायदा तीनो सेनाओं को होगा।
– इसमें मॉडर्न एयर फील्ड इन्फ्रास्ट्रक्चर तैयार करने का कांटेक्ट टाटा पावर एसईडी को दिया गया है।

– इस योजना के प्रथम चरण के तहत इंडियन एयर फोर्स के एयरफील्‍ड को अपग्रेड किया जा चुका है।
– अब दूसरे चरण के तहत इस अनुबंध पर हस्‍ताक्षर किए है।
– दूसरे चरण में उपकरणों की स्थापना और कमीशनिंग जैसे कि कैट-II – इंस्ट्रूमेंट लैंडिंग सिस्टम और एयर फील्ड लाइटिंग सिस्टम शामिल हैं।

———————————
6. कर्नाटक सरकार ने लॉकडाउन में बंद प्रभावित सेक्‍टरों के लिए कितने करोड़ रुपये राहत पैकेज की घोषणा की?

a. 1900 करोड़
b. 1710 करोड़
c. 1610 करोड़
d. 1520 करोड़

Answer: c. 1610 करोड़

– 1,610 करोड़ रुपये का मुआवजा/लाभ उन लोगों के लिए है, जो 25 मार्च से बंद होने की वजह से संकट में हैं।
– इसमें किसान, सब्जियां, फूल, फल उत्पादक, धोबी, नाई, ऑटो-रिक्शा और टैक्सी ड्राइवर शामिल हैं।
– ये वो सेक्‍टर है जिन्हें लंबे समय तक बंद रहने के की वजह से भारी नुकसान हो रहा है।
– येदियुरप्पा ने कहा इस संकट के दौरान उत्पादकों को 11,687 हेक्टेयर में अपने फूलों की खेती में नुकसान उठाना पड़ा है।
– 25000 रुपये का मुआवजा दिया जायेगा, ये प्रत्‍येक उत्‍पादक को प्रति हेक्‍टेयर के हिसाब से दिया जायेगा।
– ग्रामीण क्षेत्रों में सेवा देने वाले 2,30,000 नाइयों और 60,000 वाशरमैन (धोबियों), को 5,000 रुपये का मुआवजा दिया जाएगा।
– राज्य भर में लगभग 7,75,000 ऑटो-रिक्शा और टैक्सी चालकों में से प्रत्येक को 5000 रुपये का मुआवजा दिया जाएगा।

————————————–
7. विश्व प्रवासी पक्षी दिवस (World Migratory Bird Day) कब मनाया जाता है?

a. 9 मई
b. 8 मई
c. 7 मई
d. 6 मई

Answer: a. 9 मई

– हर साल 9 मई को दुनिया भर World Migratory Bird Day यानि विश्व प्रवासी पक्षी दिवस मनाया जाता है।
– इस दिन को मनाए जाने का उद्देश्य प्रवासी पक्षियों के बारे में जागरूकता बढ़ाना है।
– इस साल विश्व प्रवासी पक्षी दिवस 2020 का विषय “Birds Connect Our World” है।

————————–
8. पंडांडा कुट्टप्पा का 7 मई को निधन हो गया, वह किस लिए जाने जाते थे?

a. फुटबॉल टूर्नामेंट
b. क्रिकेट खिलाड़ी
c. फैमिली हॉकी टूर्नामेंट
d. लेखन

Answer: c. फैमिली हॉकी टूर्नामेंट

– कोडावा फैमिली हॉकी टूर्नामेंट के संस्थापक पंडांडा कुट्टप्पा का 7 मई को निधन हो गया।
– 1997 में ओलंपिक खेलों की तर्ज पर पहला टूर्नामेंट आयोजित किया था जो अब तक जारी है।

—————————-
9. वैन के आकार का खतरनाक ऐस्टरॉइड पृथ्‍वी के बेहद पास 8,310 मील की दूरी से 6 मई 2020 को गुजरा, ऐस्‍टरॉइड का नाम बताएं?

a. ऐस्‍टरॉइड 2020 KK
b. ऐस्‍टरॉइड 2020 AA
c. ऐस्‍टरॉइड 2020 LL
d. ऐस्‍टरॉइड 2020 JJ

Answer: d. ऐस्‍टरॉइड 2020 JJ

– यह ऐस्‍टरॉइड पृथ्‍वी से 8,310 मील की दूरी से होकर निकल गया जो चंद्रमा की कुल दूरी का करीब 3 प्रतिशत है।
– अंतरिक्ष में चक्‍कर लगा रहे इस ऐस्‍टरॉइड का नाम 2020 JJ है।
– यह अपने छोटे आकार की वजह से टेलिस्‍कोप की पकड़ में नहीं आया।
– हालांकि जब यह सीधे पृथ्‍वी के ऊपर आया तब वैज्ञानिकों को इसके बारे में पता चला।
– इस ऐस्‍टरॉइड का छोटा आकार होने की वजह से वैज्ञानिक धोखा खा गये।
– इससे पहले पिछले दिनों Asteroid 1998 OR2 पृथ्वी के करीब 63 लाख किमी की दूरी से 19,000 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार से निकल गया था।
– अमेरिका की स्पेस एजेंसी NASA के मुताबिक ऐसे करीब 22 ऐस्टरॉइड्स (उल्कापिंड) हैं, जो आने वाले समय में धरती पर आ सकते है।

—————————–
10. महाराणा प्रताप की जयंती कब मनाई जाती है?

a. 9 मई
b. 8 मई
c. 7 मई
d. 6 मई

Answer: a. 9 मई

– महाराणा प्रताप की 480 वीं जयंती मनाई गई।
– उनका जन्म 9 मई 1540 में हुआ था।
– महाराणा प्रताप के नाम से प्रसिद्ध प्रताप सिंह का जन्म मेवाड़ के राजा उदय सिंह द्वितीय और रानी जयवंता बाई के यहां हुआ था।
– राज्याभिषेक के तुरंत बाद मुगल सम्राट अकबर के खिलाफ युद्ध लड़ने के लिए जाना पड़ा था।
– 18 जून 1576 को हल्दीघाटी का युद्ध हुआ था।
– उनकी वीरता काफी चर्चित है।


 

Free Notes PDF of Toady’s Current Affairs : Download – Click Here

Free One Liner MCQ PDF –  Current Affairs : Download – Click Here

आप यूट्यूब चैनल सरकारी जॉब न्‍यूज पर भी करेंट अफेयर्स के वीडियो को देख सकते हैं।

 


Buy eBooks & PDF

[products limit=”3″ columns=”3″ orderby=”id” order=”DESC” visibility=”visible”]

About Us | Help Desk | Privacy Policy | Disclaimer | Terms and Conditions | Contact Us

©2022 Sarkari Job News powered by Alert Info Media Pvt Ltd.

Log in with your credentials

or    

Forgot your details?

Create Account