Daily Current Affairs, Current Affairs 10 June, 10 June 2020 Current Affairs, 10 june Current Affair 2020, 10 June Current Affairs 2020 Question, Daily Current Affairs 2020, 10 June Current Affairs, 10 June Current Affairs Question

यह 10th June 2020 का करेंट अफेयर्स है, जो आपके कांपटीटिव एग्‍जाम्‍स में मदद करेगा। इसका PDF Download Link इस पेज के लास्‍ट में मौजूद है। Current Affairs PDF आप इस पेज के आखिरी हिस्‍से से Free में डाउनलोड करें।

1. लद्दाख में चीन और भारत के सैनिक किस जगह से पीछे हटे हैं?

a. पैंगोंग त्‍सो लेक
b. गालवान घाटी
c. हॉट स्प्रिंग गोगरा
d. b और c

Answer: d. b और c (गालवान घाटी और हॉट स्प्रिंग गोगरा )

– हालांकि पैंगोंग त्‍सो लेक में इंडियन और चाइनीज सोल्‍जर्स के बीच अभी भी टेंशन चल रहा है।

– इस मामले में वीडियो बनान तक न तो इंडिया की ओर कोई ऑफिशियल बयान जारी किया गया है और न ही चीन की ओर से।
– दी हिन्‍दू सहित तमाम न्‍यूजपेपर्स ने डिफेंस सूत्रों के हवाले से यह लिखा है।
– 9 जून को चीनी सैनिक गालवान घाटी और हॉट स्प्रिंग गोगरा में करीब दो से तीन किलोमीटर पीछे हटे हैं। इंडियन सोल्‍जर भी पीछे हटे हैं।
– दोनों जगहों से चीन की पिुपुल्‍स लिबरेशन आर्मी ने टेंट हटा दिए हैं और कुछ सैनिकों और वाहनों को वापस ले गया है।
– एक महीने से ज्‍यादा समय से चल रहे बॉर्डर टेंशन के समाधान को लेकर यह पहला संकेत दोनों देशों की फौज ने दिया है।

– दरअसल, पिछले दिनों दोनों देशों के फौज के बीच लेफ्टिनेंट जनरल की बातचीत हुई थी।
– यह मीटिंग तीन घंटे की हुई थी, जो अब सकारात्‍मक दिख रही है।
– मिलिटरी टॉक अभी आगे भी चलती रहेगा। करीब 10 दिनों तक बातचीत होगी।

पैंगोंग त्‍सो लेक में तनाव बरकरार
– इस झील के किनारे पहाड़ों की श्रृंखला (सिरीज) है।
– विवादित जगह फिंगर एरिया में है। पहाड़ यहां पर फिंगर शेप में हैं।
– भारत लाइन ऑफ एक्‍चुअल कंट्रोल (LAC) का दावा फिंगर 8 तक करता है।
– लेकिन चीन फिंगर 2 तक। और उसके सैनिक फिंगर चार तक आ चुके हैं, आईटीबीपी के कैंप से 500 से 600 मीटर की दूरी पर। यहां फौज भी तैनात है।
– यहीं पर दोनों देशों की फौज के बीच मारपीट हुई थी और दोनों तरफ के सैनिक घायल हुए थे।
– भारत पहले की स्थिति बनाए रखना चाहता है। इस पर अभी बातचीत होनी है।

LAC के पास आर्मी का बिल्‍ड-अप
– भारत ने लाइन ऑफ एक्‍चुअल कंट्रोल से कुछ दूरी पर फौज के बिल्‍डअप (फौजी साजो-सामान को जुटाने का काम) तब तक जारी रखेगा, जबतक कि चीन अक्‍साइ चिन में अपना मिलिटरी जमावड़ा कम नहीं कर लेता है।
– भारती सेना लंबी और स्‍थाई तैनाती के लिए तैयार है।

– भारत ने चीन के सामने साफ कर दिया गया है कि वह बॉर्डर एरिया डेवलपमेंट प्रोग्राम (BADP) को बंद नहीं करेगा। सड़कों का निर्माण जारी रहेगा।
– मैंने पिछले वीडियो में आपको बताया था कि बॉर्डर रोड ऑर्गेनाइजेशन ने झारखंड सरकार से 11,800 श्रमिकों को रिक्रूट करने का एग्रीमेंट किया है।
– उन्‍हें LAC के पास ले जाया जा रहा है।

—————————————–
2. अमेरिका में रंगभेद के खिलाफ कौन सा अभियान चल रहा है, जो यूरोप समेत दुनिया के कई देशों में फैल गया?

a. White Lives Matter
b. Black Lives Matter
c. Black Lives again
d. Anti Black mater

Answer: b. Black Lives Matter (‘अश्‍वेतों की जिंदगी मायने रखती है’)

– अमेरिका में ‘Black Lives Matter’ (‘अश्‍वेतों की जिंदगी मायने रखती है’) मूवमेंट चल रहा है।
– इसका दुनिया के ज्‍यादातर देशों में असर हो रहा है। खासकर यूरोप में पब्लिक रेसिज़म (रंगभेद) के खिलाफ एकजुट हुई है।
– ब्रिटेन, फ्रांस, कनाडा, जर्मनी सहित कई देशों में भी प्रदर्शन हो रहे हैं।
– यहां तक कि कनाडा में ‘Black Lives Matter’ प्रदर्शन में वहां के प्राइम मिनिस्‍टर जस्टिन ट्रूडो ने भी हिस्‍सा लिया।
– 5 जून को वह घुटनों लोगों का साथ देने के लिए घुटनों पर भी बैठ गए।
– जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल ने भी रंगभेद विरोधी अभियान का समर्थन किया।
– उन्‍होंने स्‍वीकार किया कि रेसिज़म (रंगभेद) सिर्फ अमेरिका में नहीं बल्कि जर्मनी में भी है।
– फ्रांस की सरकार ने पुलिस की बर्बारता को कम करने के लिए गला पकड़ने या दबाने को बैन कर दिया है।

अमेरिका में स्‍ट्रीट का नाम पड़ा ‘Black Lives Matter’
– यूएसए की राजधानी वाशिंगटन डीसी में व्‍हाइट हाउस को जाने वाली सड़का का नाम ही ‘Black Lives Matter’ स्‍ट्रीट रख दिया गया है।
– वहां के मेयर ने यह नाम रखा और रोड पर ही यह लिखवा दिया।
– हालांकि अमेरिकी प्रेसिडेंट डोनाल्‍ड ट्रंप प्रदर्शनकारियों को आतंकवादी और अराजक कह रहे हैं।
– ट्रंप ने तो मिलिटरी को प्रदर्शनकारियों के खिलाफ उतार दिया था, लेकिन उन्‍हीं के रक्षा मंत्री ने खुले तौर पर विरोध किया।
– इसके बाद रक्षा मंत्री ने सेना को भेजने से ही इनकार कर दिया।
– और अब ताजा अपडेट है कि ट्रंप अपने रक्षा मंत्री को हटाना चाह रहे हैं।

————————————
3. रंगभेद के खिलाफ ‘Black Lives Matter’ मूवमेंट के असर से किस देश में लोगों ने 17वीं शताब्‍दी के दास व्यापारी (Slave trader) एडवर्ड कॉलस्टन की मूर्ति उखाड़कर एवन नदी में फेंक दी?

a. यूनाइटेड किंगडम
b. फ्रांस
c. कनाडा
d. दक्षिण अफ्रीका

Answer: a. यूनाइटेड किंगडम

– इस खबर को दुनियाभर के न्‍यूजपेपर्स ने कवर किया है।
– इंडिया में भी दी हिन्‍दू सहित कई न्‍यूजपेपर्स ने पब्लिश किया है।

– अमेरिका में जॉर्ज फ्लॉयड की पुलिस ब्रुटैलिटी के दौरान हत्‍या के बाद रंगभेद के खिलाफ अभियान अलग-अलग देशों में फैलता जा रहा है।
– 8 जून को 10 हजार से ज्‍यादा लोगों की भीड़ ने दासों के व्यापारी रहे एडवर्ड कोलस्टन की मूर्ति को पहले रस्सियों से बांधा और फिर खींचकरमूर्ति को तोड़ दिया.
– इसके बाद प्रदर्शनकारी इस मूर्ति को एवन नदी की तरफ लुढ़कानेलगे और आखिरकार लोगों ने इसे एवन नदी में ढकेल दिया.
– यह ब्रिस्टल शहर में हुआ।

दास कारोबार
– रंगभेद को लेकर ब्रिटेन का काला इतिहास रहा है।
– 17वीं और 18वीं शताब्‍दी में ब्रिटेन, कोरोबारियों को लाइसेंस देता था।
– एडवर्ड कोलस्‍टन, रॉयल अफ्रीकन कंपनी का सदस्‍य था, जो 80 हजार मैन, वुमेन एंड चाइल्‍ड को अफ्रीका से पकड़कर अमेरिका भेजा था।
– इनको अमेरिका में दास के दौर पर बेचा गया था।
– उसने अपनी संपत्ति का बड़ा हिस्‍सा दान कर दिया था।
– कोलस्‍टन की मृत्‍यु वर्ष 1721 में हुई थी और तब वह ब्रिटेन में प्रतिष्ठित व्‍यक्ति माना जाता था।
– उसकी मूर्ति लगी थी, जो नदी में फेंक दी गई।

लंदन के मेयर के आदेश पर दास व्‍यापारी (Slave trader) रॉबर्ट मिलिगन की मूर्ति हटाई गई
– यह स्‍टैच्‍यू लंदन म्‍यूजियम के बाहर लगी थी।
– लंदन के मेयर सादिक खान के आदेश पर इसे मूर्ति को हटा दिया गया।
– यूनाइटेड किंगडम में अलग-अलग जगहों से इस तरह से उनकी मूर्तियां हटाई जा रही हैं, जो दास कारोबारी थे।

भारत को अंग्रेजों का गुलाम बनाने वाले रॉबर्ट क्लाइव की मूर्ति के खिलाफ अभियान
– इंग्लैंड की राजधानी लंदन स्थित रॉबर्ट क्लाइव की मूर्ति (Statue of Robert Clive) को हटाने की मांग तेज हो गई है.
– मूर्ति हटाने के लिए सोमवार को एक ऑनलाइन पिटीशन (Online Petition) पर लोगों ने सिग्‍नेचर करके दक्षिण इंग्लैंड के श्रोपशायर काउंटी काउंसिल को भेजी है।
– क्लाइव भारत समेत दक्षिण पूर्व एशिया में ब्रिटिश हुकूमत का विस्तार करने वाले शुरुआती लोगों में थे.
– ब्रिटिश हुकूमत के दौरान इन देशों में लाखों निर्दोष लोगों की हत्या हुई और उन पर जुल्म ढहाए गए.
– 1757 में प्लासी और 1764 में बक्सर की लड़ाई जीतने में क्लाइव की रही भूमिका।
– रॉबर्ट क्लाइव बंगाल प्रेसिडेंसी के पहले गवर्नर थे.
– लोगों का कहना है कि ऐसे में ब्रिटिश राष्ट्रवाद का जश्न मनाने के लिए उनकी मूर्ति लगाना गलत है.

– अमेरिका के वर्जीनिया में रॉबर्ट ई ली की प्रतिमा हटेगी।
– वर्जीनिया राज्‍य के शहर रिचमंड के मेयर लिवर स्‍टोनी ने यह ऐलान किया है। इस महीने मूर्ति हटा दी जाएगी। द गर्जियन ने यह खबर पब्लिश है की है।
– अखबार ने लिखा है कि क्‍या अमेरिका से रेसिस्‍ट मॉन्‍युमेंट (रंगभेद करने वालों की निशानी) का अंत है?
– अमेरिका में रंगभेद के समर्थक बहुत सारे लोगों की मूर्तियां हटाने की बात हो रही है।

————————————–
4. असम में गैस के कुएं में लीकेज के बाद भीषण आग लग गई, इसे किस कंपनी द्वारा संचालित किया जाता है?

a. इंडियन आयल कार्पोरेशन
b. आयल इंडिया लिमिटेड
c. रिलायंस इंडस्‍ट्रीज
d. ओएनजीसी

Answer: b. आयल इंडिया लिमिटेड

– यह असम के तिनसुकियाा जिले में स्‍थति है। डिब्रू सिकोवा नेशनल पार्क से मात्र पांच किलोमीटर की दूरी पर।
– 27 मई को गैस के कुएं में लीकेज हो गया था। इसके बाद यह बड़ी मात्रा में गैस आसमान में जा रही थी।
– लेकिन 9 जून की दोपहर को इसमें आग लग गई।

– इससे पहले आग से बचाने के लिए इसमें लगातार पानी डाला जा रहा था।
– सिंगपुर से विशेषज्ञों की टीम भी बुलाई गई थी।
– लेकिन वे आग लगने से नहीं रोक पाए।

– इसकी वजह से कम से कम चार व्यक्ति घायल हो गए और 50 घर जल गए।
– गैस लीकेज के समय ही लोगों को वहां से हटाया जाने लगा था।
– एक स्थानीय पर्यावरणविद् निरंता गोहैन ने कहा, “डिब्रू सिकोवा नेशनल पार्क (डीएसएनपी) से पांच किलोमीटर दूर रहने वाले लोग अपने घरों से भाग रहे हैं, आग के डर से उनके घरों में आग लग जाएगी।”

भीषण आग से पर्यावरण को काफी नुकसान हो रहा है।
– गैस के लिक्विड फॉर्म में नीचे गिरने से पास में ही मौजूद ब्रह्मपुत्र नदी में कई डॉल्फिन मछलियां मारी गई है। जबकि डिब्रू सिकोवा नेशनल पार्क में पेड़ों और जीवों को काफी नुकसान हो रहा ह।

– इस गैस के कुएं की ड्रीलिंग 2006 में हुई थी। 80 हजार क्‍यूब‍िक मीटर प्रति दिन इससे गैस निकाला जा रहा था।

———————————–
5. किस राज्‍य ने ‘बंदे उत्‍कल जननी’ को राज्‍यगान का दर्जा दिया है?

a. पश्चिम बंगाल
b. आंध्र प्रदेश
c. ओडिशा
d. कर्नाटक

Answer: c. ओडिशा

– ओडिशा मंत्रिमंडल ने 7 जून को इस गीत को राज्‍यगान का दर्जा देने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है।
– यह एक देशभक्ति कविता है, जो सन् 1912 में कवि लक्ष्मीकांता महापात्र ने लिखी थी।
– यह एक अलग प्रांत के गठन की लड़ाई के दौरान शुरुआती गान रहा।
– यह अब सभी सरकारी कार्यक्रमों व राज्य विधानसभा में गाया जाएगा।

————————————-
6. ‘रैमन मैग्सेसे अवॉर्ड्स’ 2020 किस वजह से रद्द कर दिया गया?

a. आर्थिक संकट
b. कोविड-19
c. भूकंप
d. इनमें से कोई नहीं

Answer: b. कोविड-19

– इस अवार्ड के 60 साल के इतिहास में तीसरी बार ऐसा हुआ है।
– इससे पहले 1970 में आर्थिक संकट और 1990 में विनाशकारी भूकंप की वजह से अवार्ड रद्द हुआ था।
– इसे एशिया का नोबेल पुरस्कार भी कहा जाता है।
– ये पुरस्‍कार फिलीपीन्स की राजधानी मनीला में दिया जाता है।
– पिछले साल 2019 में इंडियन जर्नलिस्‍ट रवीश कुमार को यह अवार्ड मिला था।

– यह पुरस्कार फिलीपीन्स के पूर्व राष्ट्रपति रैमन मैग्सेसे की स्मृति में हर साल 31 अगस्त को दिया जाता है।

छह श्रेणियों में दिया जाता है पुरस्कार
– सरकारी सेवाएं
– सार्वजनिक सेवाएं
– सामुदायिक नेतृत्व
– पत्रकारिता, साहित्य और रचनात्मक संचार कला
– शांति और अंतरराष्ट्रीय समझ
– इमर्जेंट लीडरशिप

———————————-
7. उत्तर कोरिया ने किस देश से अपने सारे संपर्क खत्‍म करके दुश्‍मन का दर्जा दे दिया?

a. चुरू
b. न्‍यूजीलैंड
c. अमेरिका
d. दक्षिण कोरिया

Answer: d. दक्षिण कोरिया

– उत्तर (नॉर्थ) कोरिया ने 9 जून को कहा- हम दक्षिण कोरिया से जुड़ी हॉटलाइन समेत सभी कम्युनिकेशन लाइनें बंद कर रहे हैं।
– कहा कि, अब वह हमारा दुश्मन देश है।
– रिपोर्ट के मुताबिक, कम्युनिकेश लाइन खत्म करने का फैसला उत्‍तर (नॉर्थ) कोरिया के तानाशाह किम जोंग-उन और उनकी बहन किम यो-जोंग की मौजूदगी में लिया गया।
– उत्तर और दक्षिण कोरिया ने दो साल पहले कम्युनिकेशन लाइन बनाईं थीं।
– तब दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे-इन और किम जोंग-उन के बीच तीन मीटिंग हुईं थीं।
– इसी दौरान उत्तर कोरिया ने दक्षिण कोरिया को दुश्मन से दोस्त देश का दर्जा दिया था।
– अब अमेरिका और नॉर्थ कोरिया की बातचीत विफल हुई तो दक्षिण कोरिया और उत्तर कोरिया के रिश्ते भी खराब हो गए।

————————————
8. ICC ने क्रिकेट गेंद चमकाने के लिए लार के इस्‍तेमाल पर अस्‍थाई प्रतिबंध लगा दिया है, इसका उल्‍लंघन करने पर क्‍या सजा मिलेगी?

a. 50 करोड़ जुर्माना
b. खिलाड़ी पर बैन
c. चेतावनी
d. दो बार चेतावनी और फिर विपक्षी टीम के खाते में 5 रन

Answer: d. दो बार चेतावनी और फिर विपक्षी टीम के खाते में 5 रन

– लार के इस्तेमाल पर अस्थायी तौर पर रोक लगा दी।
– अनिल कुंबले की अध्यक्षता वाली क्रिकेट कमेटी ने लार पर बैन की सिफारिश की थी।
– अगर गेंदबाजी टीम का कोई खिलाड़ी ऐसा करता है तो अंपायर टीम को दो बार चेतावनी देगा।
– फिर भी ऐसा होता है तो जुर्माने के तौर पर बल्लेबाजी टीम के खाते में 5 रन जोड़ दिए जाएंगे।
– अंपायर को लार को पूरी तरह साफ करना होगा।
– इसके बाद ही दोबारा खेल शुरू होगा।

—————————————
9. केंद्र सरकार ने मोटर वाहन दस्‍तावेजों की वैधता तिथि कब तक के लिए बढ़ा दी है?

a. 30 जून
b. 30 जुलाई
c. 30 अगस्‍त
d. 30 सितंबर

Answer: d. 30 सितंबर

– इसमें वाहन फिटनेस, परमिट (सभी प्रकार), ड्राइविंग लाइसेंस, रजिस्‍ट्रेशन के डॉक्‍यूमेंट शामिल हैं।
– ऐसा कोविड-19 की वजह से तीसरी बार किया गया है।
– केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा, वर्तमान परिस्थितियों में ट्रांसपोर्टरों और नागरिकों को होने वाली कठिनाइयों से बचने के लिए ये कहा गया है।

———————————-
10. मंगल ग्रह के लिए अंतरिक्ष अभियान शुरू करने वाला पहला अरब देश कौन है?

a. सऊदी अरब
b. यूएई
c. ईरान
d. इराक

Answer: b. यूएई (संयुक्त अरब अमीरात)

– मंगल ग्रह पर 14 जुलाई को उपग्रह, जापान के तानेगाशिमा से लांच होगा।
– इस सैटेलाइट का नाम ‘अमल (आशा)’ है।
– इसमें मंगल के वातावरण का आंकलन करने के लिए तीन तरह के सेंसर हैं. जिसमें ग्रह की धूल और ओज़ोन को मापने के लिए हाई-रिज़ोल्यूशन मल्टीबैंड कैमरा है।
– यह मंगल ग्रह तक पहुंचने में 49.3 करोड़ किलोमीटर की दूरी तय करेगा और इसके लिए सात सप्ताह का समय लेगा. फिर यह मंगल की कक्षा की परिक्रमा करेगा.
– इस अभियान में यह मंगल ग्रह की कक्षा में मंगल वर्ष के आंकड़े इकट्ठा करेगा जो 687 दिनों का होता है.

स्‍पेस मिशन में UAE का इतिहास
– अंतरिक्ष अभियानों में संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) का ट्रैक रिकॉर्ड रहा है.
– उसने पृथ्वी की कक्षा में रॉकेट भेजा है और उसका एक अंतरिक्षयात्री अंतरराष्ट्रीय स्पेस स्टेशन में जा चुका है.
– अंतरिक्ष में जाने वाले पहले अरब अंतिरक्ष यात्री सऊदी अरब के प्रिंस सुल्तान बिन सलमान अल-सऊद थे, जो 1985 में अमरीका के अंतरिक्ष यान में थे.
– यूएई का मानना है कि वो 2117 तक मंगल पर मानव बस्ती बसाएगा.

UAE
मैप में कहां है यह देश
आप देख रहे हैं वर्ल्‍ड मैप में इंडिया
– यहां से अरब कंट्री की ओर चलेंगे, तो सऊदी बर और ओमान से सटा हुआ यह देश है यूएई
– पर्सियन गल्‍फ (अरब की खाड़ी) और गल्‍फ ऑफ ओमान (ओमान की खाड़ी) से लगा हुआ है।

Capital: Abu Dhabi
प्रेसिडेंट – खलीफा बिन जायद अल नह्यान
प्रधानमंत्री – मोहम्‍मद बिन राशिद अल मकतूम

———————————-
11. इंडिया इंफोलाइन फाइनेंस लिमिटेड (IIFL) फाइनेंस ने किसे अपना नया ब्रांड एंबेसडर नियुक्‍त किया है?

a. विराट कोहली
b. रोहित शर्मा
c. शिखर धवन
d. एम. एस. धोनी

Answer: b. रोहित शर्मा

– कंपनी ने अपने पहले अभियान #सीधीबात के तहत “रोहित शर्मा की सीधी बात” नामक शीर्षक का संदेश दिया!
– कंपनी का यह रोहित शर्मा के साथ संदेश 30-सेकंड का है।
– आईआईएफएल कंपनी भारत की शीर्ष गैर-बैंकिंग वित्त कंपनियों में शामिल है।
– इस कंपनी के पास करीब 36 हजार करोड़ से ज्‍यादा की संपत्ति है।
– रोहित शर्मा इंडिया क्रिकेट टीम के मशहूर खिलाड़ी है।

इंडिया इंफोलाइन फाइनेंस लिमिटेड (IIFL)
चेयरमैन : एस. श्रीधर
मुख्यालय: मुंबई, महाराष्ट्र

—————————————–
12. EY वर्ल्ड एंटरप्रेन्योर ऑफ द ईयर 2020 का खिताब जीतने वाली पहली भारतीय महिला उद्यमी कौन बनी?

a. प्रिया कुमारी शर्मा
b. सुमन श्रीवास्‍तव
c. श्‍यामा मुखर्जी
d. किरण मजूमदार शॉ

Answer: d. किरण मजूमदार शॉ

– वह बायोकॉन की कार्यकारी अध्यक्ष हैं।
– यह पुरस्‍कार 41 देशों के 46 उद्यमियों को दिया गया है, जिसमें भारत की किरण मजूमदार शॉ का भी नाम है।
– इस पुरस्‍कार के 20 साल के इतिहास में इस खिताब को पाने वाली दुनिया की दूसरी और भारत की पहली महिला उद्यमी बन गई है।
– इससे पहले यह पुरस्‍कार कोटक महिंद्रा बैंक के उदय कोटक को 2014 में दिया गया।
– तथा इन्फोसिस के एनआर नारायणमूर्ति को 2005 में यह सम्‍मान मिला।

– EY – अर्न्स्ट एंड यंग


Free Notes PDF of Toady’s Current Affairs : Download – Click Here

Free One Liner MCQ PDF –  Current Affairs : Download – Click Here

आप यूट्यूब चैनल सरकारी जॉब न्‍यूज पर भी करेंट अफेयर्स के वीडियो को देख सकते हैं।

 


Buy eBooks & PDF

About Us | Help Desk | Privacy Policy | Disclaimer | Terms and Conditions | Contact Us

©2022 Sarkari Job News powered by Alert Info Media Pvt Ltd.

Log in with your credentials

or    

Forgot your details?

Create Account